Kids Jokes in Hindi | बच्चों के जोक्स

Kids Jokes in Hindi –  Hello friends in this post we are going to share the very best and funny kids jokes in hindi which you can share on whatsapp and facebook or even you can tell this jokes to your kids and they will really laugh at it.

Sometimes small kids get angry and upset so to bring smile on their face telling them few funny jokes will instantly make them happy and they will feel good.

In this post all the jokes are very good and you can tell to any kid of any age and they will love it. So friends without wasting any time let’s start this post.

Hindi Jokes For Kids

बच्चों के लिए जोक्स और चुटकुले

kids jokes in hindi

चिंटू (मां से)- मां मेरी क्या कीमत है।
मां (चिंटू से)- बेटा तू तो लाखों का है।
चिंटू- तो लाखों में से 5 रुपये देना, मुझे आइसक्रीम खानी है।


ज्योतिष (चिंटू का हाथ देखकर)- बेटा तुम बहुत पढ़ोगे।
चिंटू के पिताजी (ज्योतिष से)- पढ़ तो ये तीन साल से रहा है, ये तो बताइये की पास कब होगा।


रमेश (अशोक से)- मेरा चिंटू बहुत फास्ट इंग्लिश बोलता है।
अशोक (चिंटू से)- बेटा बोलकर दिखाओ।
चिंटू- इंग्लिश इंग्लिश इंग्लिश.


अध्यापिका (छात्र से)- प्यार और इश्क में क्या फर्क है?
छात्र (अध्यापिका से)- प्यार वो है जो आप अपनी बेटी से करती हैं? और इश्क वो है जो मैं आपकी बेटी से करता हूं।


राजू (डॉक्टर से)- लगता है मैं अंधा हो गया हूं।
डॉक्टर ने राजू की आखों को चेक किया और कहा नही बेटा तुम्हारी आखें तो ठीक है।
राजू- तो फिर अखबार में मुझे पास छात्रों की लिस्ट में मेरा रोल नंबर क्यों नजर नही आ रहा है?


अध्यापक (चिंटू से)- बिजली कहां से आती है?
चिंटू (अध्यापक से)- मामा के घर से
अध्यापक- वो कैसे?
चिंटू- क्योंकि जब भी बिजली जाती है पापा कहते है सालों ने फिर लाइट काट दी!


चिंटू – मां एक गिलास पानी देना।
मां- खुद ले लो..
चिंटू- प्लीज दे दो..
मां- अब मांगा तो थप्पड़ दूंगी।
चिंटू- जब थप्पड़ देने आओगी तो पानी लेते आना।


बच्चा अपनी दादी से, दादी आपने कौन-कौन से मुल्क घूमे हैं?
दादी- बेटा पाकिस्तान, हिन्दुस्तान और अफगानिस्तान
बच्चा- अब कौन सा घूमेंगी..
पीछे से दादा बोले- कब्रिस्तान


पिंटू (चिंटू से)- ये कैसे पता चलेगा कि सामने जो जानवर है वह बकरा है या बकरी।
चिंटू (पिंटू से)- सिंपल है, उसको पत्थर मारना यदि वह भागा तो बकरा और भागी तो बकरी।


चिंटू – मां, पापा बहुत शरीफ हैं।
मां- वो कैसे बेटा।
चिंटू – पापा जब भी किसी लड़की को देखते हैं तो अपनी एक आंख बंद कर लेते हैं।


अध्यापक- जब बिजली चमकती है तो रोशनी पहले और आवाज बाद में क्यों आती है?
चिंटू- क्योंकि हमारी आंखें आगे और कान पीछे हैं।


चिंटू – तुम्हारे पापा कितने साल के हैं।
पिंकी- जितने साल की मैं हूं।
चिंटू- वो कैसे।
पिंकी- जिस दिन मैं पैदा हुई थी उसी दिन तो वो पापा बने थे।


अध्यापिका- अंडे में से मुर्गी का बच्चा कैसे निकला?
चिंटू- ये कोई बड़ी बात नही है, ज्यादा रोचक ये है कि वो अंदर कैसे गया।


चिंटू- पापा मुझे बाजा दिला दो।
पापा- नही तुम सबको तंग करोगे।
चिंटू- नही पापा कसम से जब सब सो जाएंगे तब मैं बजाऊंगा।


अध्यापक- मोटर साइकिल के कितने टायर होते हैं?
चिंटू – 6 टायर
अध्यापक (गुस्से से)- कैसे??
चिंटू- 4 मोटर के 2 साइकिल.


चिंटू (पिंकी से)- तुम्हें पता है मेरे पापा एक उंगली से 8 लोगों को उठा सकते है।
पिंकी- अच्छा वो कैसे?
चिंटू- क्योंकि मेरे पापा लिफ्ट ऑपरेटर है.


अध्यापक (चिंटू से)- इतनी पिटाई के बाद भी तुम हंस रहे हो।
चिंटू- गांधी जी ने कहा है, मुसीबत का समय हंसकर गुजारना चाहिए।


पिता (चिंटू से)- मम्मी बहुत चुपचाप बैठी है क्या बात है?
चिंटू- पापा, मम्मी ने लिपगार्ड मंगाया था, मैंने फेवी क्विक पकड़ा दिया…


अध्यापक (छात्र से)- देर से क्यों आये हो?
छात्र (अध्यापक से)- बाइक बिगड़ गयी थी सर।
अध्यापक- बस में नही आ सकते थे?
छात्र – मैं तो आ जाता सर लेकिन आपकी बेटी तैयार नही हुई।


टीचर- इंसान वही है जो दूसरों के काम आए।
छात्र- पर परीक्षा में तो न आप हमारे काम आती है और न दूसरों को आने देती हैं।


पिता (पुत्र से)- आज तक तुमने ऐसा कोई काम नहीं किया जिससे मेरा सिर ऊंचा हो गया हो।
पुत्र (याद करके)- पापा एक बार मैंने आपके सिर के नीचे 3 तकिये रखे थे.


पिता (पुत्र से)- तुम्हारा रिजल्ट कैसा रहा?
पुत्र (पिता से)- जी वो प्रिंसीपल सर का बेटा फेल हो गया..
पिता- मैं तुम्हारा रिजल्ट पूछ रहा हूं?
पुत्र- वो खान साहब का बेटा फेल हो गया..
पिता- लेकिन तुम्हारा रिजल्ट कैसा रहा?
पुत्र- वो डॉक्टर साहब का बेटा फेल हो गया.
पिता (गुस्से से)- बेवकूफ मैं तुम्हारा रिजल्ट पूछ रहा हूं।
पुत्र- तो आप कौन से प्रधानमंत्री है जो आपका बेटा पास जो जायेगा.


चिंटू- पापा आप प्रेस क्यों कर रहे हो।
पापा- प्रेस करने से सलवटें निकल जाती हैं।
चिंटू- फिर तो अच्छा है पापा आपका press हो जाये तो मैं दादाजी के गाल की भी सलवटें निकाल दूंगा.


मां- बेटा तुम अपने बाल क्यों नही कटवाते?
बेटा- क्यों मां?
मां- बेटा लोग रिश्ते के लिए तुम्हारी बहन को देखने आते हैं और पसंद तुम्हें कर लेते है.


पिता (पुत्र से)- बेटा दो बिस्तर क्यों लगाये हैं?
पुत्र (पिता से)- घर पर दो मेहमान आने वाले हैं।
पिता- कौन?
पुत्र- मम्मी का भाई और मेरा मामा।
पिता- फिर एक बिस्तर और लगा मेरा साला भी आ रहा है।


दो छात्र स्कूल में देर से पहुंचे तो अध्यापक ने पूछा- चिंटू, स्कूल देर से क्यों आए हो
चिंटू- सर मेरा एक रुपये का सिक्का गुम हो गया था, मैं उसे ही ढूंढ रहा था।
अध्यापक (दूसरे छात्र से)- मोनू, और तुम देर से क्यों आए?
मोनू- सर मैं इसके सिक्के पर पैर रखकर खड़ा हुआ था।


सोनू (चिंटू से)- मेरे पापा के आगे अमीर से अमीर आदमी भी कटोरी लेकर खड़े रहते हैं।
चिंटू (सोनू से)- ऐसे कितने अमीर हो तुम?
सोनू- मेरे पापा गोल-गप्पे की दुकान लगाते है.


अध्यापिका (छात्रों से)- सोच और वहम में क्या फर्क है?
छात्र (अध्यापिका से)- आप मस्त आइटम हैं ये हमारी सोच है, और हम अभी बच्चे हैं ये आपका वहम है।


अध्यापिका (छात्र से)- वो कौन सा डिपार्टमेंट है जिसमें औरत काम नही कर सकती?
छात्र (अध्यापिका से)- फायर ब्रिगेड।
अध्यापिका- क्यों?
छात्र- क्योंकि औरतों का काम आग लगाना है बुझाना नही।


मां (बेटे से)- उठ जा कम्बख्त देख सूरज कब का निकल आया है ़ ़ ़
बेटा (मां से )- तो क्या हुआ मां वो सोता भी तो मुझ से पहले है।


अध्यापक (छात्र से)- ताजमहल को सातवां अजूबा क्यों कहा जाता है?
छात्र (अध्यापक से)- क्योंकि शाहजहां ने यह बैंक से लोन लिये बिना बनवा दिया था.


अध्यापिका (चिंटू से)- जो काम तुमने नही किया, उसके लिए तुम्हें कभी सजा नही मिलेगी।
चिंटू- धन्यवाद मैडम आज मैंने होमवर्क नही किया है।


अध्यापिका (छात्र से)- तुम लेट क्यों आये? स्कूल 7 बजे शुरु होता है फिर देर क्यों की?
छात्र- मैम आप मेरी इतनी फिक्र मत किया करो लोग गलत समझते हैं।


अध्यापक (छात्र से)- बताओ हाथी और घोड़े में क्या फर्क होता है?
छात्र (अध्यापक)- सर घोड़े की एक तरफ दुम होती है और हाथी की दोनों तरफ.


अध्यापक (छात्र से)- कल स्कूल क्यों नही आये तुम?
छात्र (अध्यापक से)- मुझे बर्ड फ्लू हो गया था।
अध्यापक- क्या ये तो मुर्गे की बीमारी होती है।
छात्र- आपने मुझे इंसान छोड़ा ही कहा है रोज तो मुझे मुर्गा बना देते हो.


आदिवासी इलाके में एक अध्यापिका का ट्रांसफर हो गया।
अध्यापिका (छात्रों से)- पहले वाले अध्यापक कैसे थे?
आदिवासी छात्र- वो तो बहुत स्वादिष्ट थे.


चाइनीज लड़की को देख कर मां बोली- बेटा ये क्या ले आए हो?
बेटा- आपने खुद ही तो कहा था कि घर आते हुए चीनी लेते आना।


गणित का शिक्षक (छात्र से)- जब मैं तुम्हारी उम्र का था तो मेरे गणित में 100 नंबर आते थे।
छात्र (शिक्षक से)- सर आपको कोई अच्छा टीचर पढ़ाता होगा।


चिंटू (पिता से)- आपको पता चले कि मैं पास हो गया हूं तो आपको कैसा लगेगा।
पिता (चिंटू से)- मैं तो खुशी से पागल ही हो जाऊंगा।
चिंटू- बस पापा इसी डर से मैं फेल हो गया.


अध्यापक (छात्र से)- मैंने तुम्हें कुत्ते पर निबंध लिखने को कहा था, लिख के क्यों नही लाये।
छात्र (अध्यापक से)- मैंने जैसे ही कुत्ते पर पेन रखा वो भाग गया।


पिता (पुत्र से)- बेटा अगर ससुराल वाले स्कूटर दें तो कार मांगना, दुकान दें तो घर मांगना, कूलर दें तो एसी मांगना।
बेटा (पिता से)- अगर वो लड़की दें तो क्या उसकी मां को मांगू।


बच्चा- पापा जल्दी ठंडा पानी लेकर चलो मम्मा के पास चलो।
पापा- क्यों?
बच्चा- मम्मा कह रही हैं कि पहले तेरे बाप के और अब तेरे लक्षण देख-देख कर मेरे देह में आग लग जाती है।


डॉक्टर(चिंटू से)- किसके लिए चश्मा बनवाना चाहते हो?
चिंटू- मास्टर जी के लिए मैं उन्हें गधा दिखायी देता हूं।


अध्यापिका (छात्रों से)- सब अपनी ड्राइंग की कॉपी में ट्रेन बनाओ में 5 मिनट बाद आ रही हूं।
10 मिनट बाद..
अध्यापिका- ट्रेन दिखाओ..
छात्र- आप लेट हो गयी, ट्रेन 5 मिनट पहले ही चली गयी..


अध्यापिका (छात्र से)- भूत, वर्तमान और भविष्य काल का एक उदाहरण में देती हूं और एक तुम देना.. मैं सुंदर थी, सुंदर हूं और सुंदर ही रहूंगी।
छात्र (अध्यापिका से)- ये वहम था, है और रहेगा।


अध्यापक (छात्र से)- अकबर कौन था?
छात्र (अध्यापक से)- पता नही सर।
अध्यापक- पढ़ाई की तरफ ध्यान दो, पता चलेगा।
छात्र- आप बताइये मुकेश कौन है?
अध्यापक- पता नही।
छात्र- अपनी बेटी की तरफ ध्यान दो, पता चलेगा।


अध्यापक (छात्र से)- दुनिया का सबसे पुराना प्राणी कौन सा है?
छात्र (अध्यापक से)- जेबरा है सर
अध्यापक- कैसे?
छात्र- क्योंकि, वो ब्लैक एंड व्हाइट है ना इसलिए।


अध्यापक (छात्र से)- 5 नंबर लेकर भी तुम हंस क्यों रहे हो?
छात्र (अध्यापक से)- मैं ये सोच रहा हूं कि वो 5 नंबर कैसे मिले।


अध्यापक (छात्रों से)- बच्चों, अगर मन से प्रार्थना करें तो भगवान आपकी ख्वाहिश जरूर पूरी करेगा।
छात्र (अध्यापक से)- ये सब झूठ है सर..
अध्यापक- क्यों?
छात्र- अगर वो सच होता तो, अब तक आप दूसरे स्कूल में चले जाते।


अध्यापक (चिंटू से)- जो दूसरों को अपनी बात ना समझा सके वो गधा होता है।
चिंटू (अध्यापक से)- सर क्या मतलब मैं समझा नही?


अध्यापिका (मिनी से)- आज स्कूल में देर से आने का तुमने क्या बहाना ढूंढा है?
मिनी- सर आज मैं इतनी तेज दौड़कर आई कि बहाना सोचने का मौका ही नहीं मिला.


अध्यापक- हर सफल आदमी के पीछे एक औरत का हाथ होता है, इस वाक्य से तुम क्या समझते हो?
चिंटू- यही कि किताबों में समय बर्बाद करने से अच्छा है किसी लड़की के पीछे भागना चाहिए.


मां (बेटे से)- बेटा, तुम तो पढ़ने में बड़े होशियार हो फिर ट्यूशन वाले को रखने की क्या जरूरत है?
बेटा (मासूमियत से)- मां, तुम भी तो घर का काम करने में होशियार हो फिर काम वाली बाई को रखने की क्या जरूरत है?


मेहमान खाना खाते हुए बोले- ये तुम्हारा कुत्ता मुझे बहुत देर से घूर रहा है??
चिंटू- अंकल आप जल्दी से खाना खा लो, वो अपनी प्लेट पहचान गया है।


पिता (पुत्र से)- क्या मैं तुम्हारी पढ़ने में हेल्प करूं?
पुत्र – नही पापा मैं बिना आपकी हेल्प के ही फेल होना चाहता हूं।


पिता (पुत्र से)- बेटे तुम इतने महान बनो कि तुम्हारा नाम दुनिया के चारों कोनों में फैले।
पुत्र (पिता से)- पापा महान तो बन जाऊंगा पर एक समस्या है।
पिता- वह क्या?
पुत्र- दुनिया गोल है, उसके चार कोने हो ही नहीं सकते फिर नाम कैसे चारों कोनों में फैलेगा।


पिता (पुत्र से)- परीक्षा निकट है, तुमको रात-दिन पढ़ना चाहिए।
पुत्र (पिता से)- जी, रात को तो मैं सोता हूं।
पिता- जागा करो।
पुत्र- आप तो कहते हैं रात को उल्लू जागा करता है।


स्कूल में आग लग गयी, सब बच्चे खुश थे कि अब स्कूल नही आना पड़ेगा पर एक बच्चा उदास था।
अध्यापक (छात्र से)- बेटा तुम उदास क्यों हों?
छात्र- सर आप जिंदा कैसे बचे


अध्यापक (छात्र से)- तुम्हारे घर की चाय बहुत अच्छी थी।
छात्र- सर अगर बिल्ली ने दूध झूठा नही किया होता तो और अच्छी होती।


पिताजी (पुत्र से)- इतने कम नंबर? दो थप्पड़ मारने चाहिए!
पुत्र (पिता से)- हां पापा, चलो मैंने उस मास्टर जी का घर देखा हुआ है!!!


चिंटू (गोलू से)- ये गांधी बापू हर नोट में हंसते क्यों रहते हैं?
गोलू (चिंटू से)- सिंपल है यार रोएंगे तो नोट गीला नही हो जाएगा।


चिंटू (मिनी से)- मुझे एक बोतल खून दे दो।
मिनी (चिंटू से)- ब्लड ग्रुप बताओ..
चिंटू – कोई भी चलेगा..
मिनी- कैसे?
चिंटू- गर्लफ्रेंड को लव लैटर लिखना है.


चिंटू (मोनू से)- आजकल ज्यादा बच्चे जुड़वा क्यों पैदा होते हैं?
मोनू (चिंटू से)- देश में इतना आतंकवाद बढ़ गया है है कि बच्चे भी अकेले पैदा होने से डरते है.


अध्यापक (मोनू से)- तुम लेट क्यों आए हो?
मोनू (अध्यापक)- मम्मी पापा लड़ रहे थे..
अध्यापक- वो लड़ रहे थे तो तुम क्यों लेट आये?
मोनू- मेरा एक जूता मम्मी के पास था और दूसरा पापा के पास!


चिंटू- पिताजी, आज मुझे एक लड़के ने मारा।
पिताजी- क्या तुम उसे पहचान सकते हो?
चिंटू- हां पापा मैं उसके दांत साथ लाया हूं।


पप्पू- पापा आपकी दा..
पापा- पप्पू कितनी बार कहा है कि खाना खाते वक्त बीच में मत बोला करो।
खाना खाने के बाद जो भी बोलना है बोल देना.
पापा- पप्पू- हां अब बोलो क्या कह रहे थे।
पप्पू- पापा मैं तो केवल इतना कह रहा था आपकी दाल में मक्खी गिर गई थी।


चिंटू (मिनी से) मंदिर के बाहर चप्पल रखने में और मिस कॉल देने में क्या चीज कॉमन है?
मिनी (चिंटू से)- दोनों में डर लगा रहता है की कोई उठा न ले।


पिता (पुत्र से)- परीक्षा में कितने नंबर आये।
पुत्र (पिता से)- 1 नही आया, बाकी पूरे आये हैं।
पिता- शाबाश, 99 नंबर लाया है मेरा बेटा।
पुत्र- नही मैंने कहा 100 में से 1 नही आया, 00 आये हैं।


एक लड़का घर देर से लौटा।
मां- कहां था?
बेटा- इमोशनल फिल्म देखने गया था, मां का प्यार।
मां- अब अंदर जाकर एक्शन फिल्म देख बाप की मार।


पिताजी (चिंटू से)- अरे तुम आज तराजू लेकर स्कूल क्यों जा रहे हो?
चिंटू- पापा ने कहा था कि हमें हर बात तौलकर बोलनी चाहिए।


दादा (पोते से)- छुप जाओ, आज तुम स्कूल से भागकर आये हो, और तुम्हारे अध्यापक यहीं आ रहे हैं।
पोता- आप छुप जाइए, मैंने उन्हें बताया था कि आप मर गए हैं।


अध्यापिका- तुम क्या करोगे अगर चोर पीछे के दरवाजे से आये???
चिंटू- मैं फोन से 001 डायल करुंगा, तो पुलिस भी पीछे के दरवाजे से आएगी


अध्यापिका- गोलू तुमने जो माई डॉग पर निबंध लिखा है क्या तुमने अपने भाई की नकल मारी है।
गोलू- नही मैम मैंने और मेरे भाई ने एक ही कुत्ते के ऊपर निबंध लिखा है


एल के जी के बच्चे को इम्तहान में जीरो मिला।
पिता (गुस्से से)- यह क्या है?
बच्चा- पापा, मैम के पास स्टार खत्म हो गये तो उन्होंने मुझे मून दे दिया।


पिता- तेरे रिजल्ट का क्या हुआ?
पुत्र- सर ने कहा है कि इसी क्लास में एक और साल लगाना पड़ेगा।
पिता- साल तो चाहे 2-3 लगा लो, पर फेल ना होना बेटा।


टीचर ने स्वास्थ्य संबंधी जानकारी देने के लिए कक्षा में बच्चों से पूछा।
टीचर- अंडे के फायदे बताओ?
चिंटू- अंडे के तो बहुत फायदे हैं।
टीचर- कैसे?
चिंटू- अगर ये परीक्षा में मिल जाए तो, अगले साल की किताबों का खर्चा बच जाता है।

Final Words:

So dear friends, these are the best kids jokes collection in hindi. We hope that you really enjoyed and had a laugh while reading all these funny jokes.

If you really loved it then don’t forget to give 1 like and share on whatsapp and facebook with your friends also. Also if you have any other good kids chutkule then please share in the comments section with us.

We will try to add more such jokes in this post so that you get the new and latest content. Till then keep reading other posts and keep coming back for more. Thank You.

Leave a Comment

Your email address will not be published.