30+ किस डे पर शायरी | Kiss Day Shayari in Hindi

Hello friends in this post we are going to share kiss day shayari in hindi which you can share with your boyfriend, girlfriend, husband or wife and they will be very happy.

Kiss day is celebrated on 6th of july. So friends without wasting anytime let’s start this post.

30+ किस डे पर शायरी

Kiss Day Shayari in Hindi

Kiss day shayari in hindi

1.
महबूब की आंखो मै वो प्यार दिखाई देता है
गले लग जाऊं उसके इंताजर दिखाई देता है
उसके होठों को अपने होठों से चूम लू
बारिश के मौसम ये प्यार दिखाई देता है।।

2
दिल की बात जुबां पर आने दो
आज सब कुछ लफ्जो मै बह जाने दो
कुछ ना कहो तुम इस कदर मुझसे
होठों पर होंठ रख अपनी कश्मकश आजमाने दो।।

3
जब एक शाम मै उसको मिलने बुलाऊंगा
उससे कैसे नज़रे मिला पाऊंगा
प्यार से चूमकर उसके होठों को
उस प्यार भारी शाम मै खो जाऊंगा।।

4.
बहुत बोलता था मैं
पर उसके सामने कुछ ना बोल पाया
जब उसके होठों का जाम मेरे लबों से टकराया।।

5
मोहब्बत की है हमने इस कदर निभाएंगे
होठों को चूमकर तुम्हारे, प्यार से गले लगाएंगे।।

6
मुझे मदहोशी भारी शाम मै खो जाने दो
मत रोको मुझे ए मुर्शीद
उसके लबों का जाम पी आने दो।।

7
इस कदर मोहब्बत थी हमें
जान से ज्यादा चाहा था
मिले थे जब एक दूसरे से हम
होठों को चूमकर प्यार जताया था।।

8
जब गया उससे मिलने में
उसकी बाहों मै खो गया
चूमते रहे हम एक दूसरे के होठों को
मै उसकी जुल्फो के तले सो गया।।

9
मेरा महबूब मुझसे शर्माता बहुत है
नज़रे नहीं मिलता आंखे चुराता बहुत है
बेकारार है हम चूमने को एक दूसरे के होठ
वो मुझसे प्यार जताता बहुत है।।

10
बारिश की बूंदों का पानी उसके लबों पर गिर गया
भीग गई वो पूरी मै मदहोश हो गया
आलम देखो मोहब्बत का हमारी
मै उसके होठों को चूमते चूमते उसमे खो गया।।

11
गुलाब के पंखुड़ियां से नाजुक होठ है उसके
जब छुआ मैने अपने लबों से वो शरमा गई
सिमटकर वो किसी तितली की तरह मेरी बांहों में आ गई
चूमते रहे हम ऐसे ही एक दूसरे के लबों को
ये शाम हमारी जिंदगी मै रोनक बनकर आ गई।।

12
इस कदर शर्माई वो मेरे पास आने पर
फिर दूर चली गई
मैने जब पकड़ा उसका हाथ
वो मुड़कर मेरे लबों को चूम गई।।

13
सर्दियों के मौसम का भी अजीब नशा है
तलब है उसके होठों को हमें
चाय का तो बस यूं ही नशा है।।

14
मोहब्बत परवान चढ़ रही थी
मै उसमे खोया हुआ था
कुछ नहीं बोली वो उस दिन
मैने उसको लबों को छुआ हुआ था।।

15
मिलने आई वो मुझसे एक रोज
गले से लिपट गई
एहसाह अलग था वो मेरा भी
उसके होठों से मेरी मुलाकात हो गई।।

16
प्यार का महीना होता है ये फरवरी
हम इसको मनाते है
किस डे पर चूमकर उसके होठों को
अपने लबों से लगाते है।।

17
जब गए उसके घर हम,वो बहुत शर्मा रही थी
मेरे पास ना आकर, नेनों से बाण चला रही थी
खीच कर मैने उसे अपनी बांहों मै ले लिया
वो कुछ कह पाती उससे पहले उसको लबों को छू लिया।।

18
हर तरफ दौर ना था, उस जैसी कहानी का
मैने कही देखे थे दौर जवानी का
आ रहे थे पास हम एक दूसरे के
होठों को चूमना भी था हिस्सा हमारी कहानी का।।

19
पास आओ गले लगो जरा बात तो करो
मै तुम्हे कितना चाहता हूं जरा हिसाब तो करो
रख लूं तुम्हे अपने पास हमेशा मै
तुम मुझे एक प्यार भरा किश तो करो।।

20
उसके होठों को चूमना ही काफी था मेरे लिए
मुझे कभी जिंदगी भर पानी की जरुरत ना पड़ी।।

21
आसमान में रात को चांदनी थी
वो रात सुहानी यादगार कहानी थी
हमने जिया थे वो पल एक दूसरे के साथ
होठों को चूमते हुए रात गुजारनी थी।।

22
हर कश्मकश का इलाज नहीं होता
पास रहे या दूर उसका इंतज़ार नहीं होता
रहती है हर वक्त प्यास उसके लबों की
अब चंद दिनों का भी मुझसे इंतज़ार नहीं होता।।

23
हर शाम सुहानी नहीं होती
मेरे महबूब जैसी कोई कहानी नहीं होती
मिलती है वो मुझसे होठों को चूमकर ऐसे
जैसे सुबह के बाद रात की चांदनी नहीं होती।।

24
दूर है बहुत मिलने की आस रहती है
मुझे हर वक्त उसके लबों को प्यास रहती है।।

25
गए थे हम दोनों हमने हर लम्हा जिया था
पहाड़ों को इन हसी वादियों में हमने किश किया था।।

26
गले से लगाकर उसे अपने प्यार का इज़हार कर दूंगा
ना बोलेगी वो कुछ ना मै बोलूंगा
समझेंगे हम एक दूसरे की खामोशी को
मै उसके होठों पर अपने होठ रख दूंगा।।

27
उसके इश्क का नशा मुझपर इस कदर चढ़ गया
छूकर उसके होठों को अपने लबों से
मै जिंदगी भर के लिए मदहोश हो गया।।

28
नई कहानी नया किरदार रहता है
मुझे हर वक्त उससे प्यार रहता है
चूम लेता हूं उसके होठों को
मुझे हर घड़ी इस पल का इंतज़ार रहता है।।

29
वो हसीं रात जब मिलन की आई थी
हम दोनों थे एक दूसरे की बांहों मै
कुदरत ने भी ली अंगड़ाई थी
चूम रहा था मै उसके होठों को
वो प्यार भरी चांदनी रात आई थी।।

30
उससे मिला इस कदर की बहक गया
गले से लगाकर उसको मै ठहर गया
चूम रहे थे हम दोनों इस कदर एक दूसरे के होठों को
वो हसीं रात का शमा भी बहक गया।।

31
उससे मिलने की आरूजू हर वक्त रहती है
मुझे उसके लबों की प्यास हर वक्त रहती है
मिलता है जब मै उससे कभी
चूमकर होठों को इजहारे मोहब्बत हर बार होती है।।

32
इतना नशा हो गया उसके होठों का
अब कुछ याद नहीं रहता
लगी रहती है हर वक्त तलब उसकी
मुझे अब उसका चेहरा भी याद नहीं रहता।।

33
प्यार था इकरार था इजहार था
मुझे हर वक्त तेरी मोहब्बत का इंतज़ार था
जब से चूम कर गया है तू मेरे होठों को
मेरा दिल हर वक्त तुझसे मिलने को बेकरार था।।

34
घर से निकले हम बारिश आ गई
वो भीग गई पूरी पानी मै
उसके होठों पर बारिश की बूंदे आ गई
चूमने लगे हम एक दूसरे के होठों को
मोहब्बत के प्यार कि वो निशानी आ गई।।

35
वो भी चाहती थी मिलने मूझसे
चूमकर होठों को घुलना मुझसे
उससे भी मेरे बिना रहा नहीं गया
रख दिए होठों पर होठ उसने
मुझसे भी अब रहा नहीं गया।।

Final Words:

So friends these were the best kiss day shayari in hindi, we really hope that you loved all these shayari and if you liked it then please give this post 1 like and also share with your friends on whatapp and facebook.

Meanwhile do check out our other posts as they are also very interesting. Thank you.

Leave a Comment

Your email address will not be published.