लड़की की तारीफ शायरी

हेल्लो दोस्तों आज के इस पोस्ट में हम आपके साथ लड़की की तारीफ शायरी शेयर करने वाले है जिसको पढ़कर किसी भी लड़की का दिल खुश हो जायेगा.

कई बार ऐसा होता है की हमको कोई लड़की बहुत दिल से पसंद होती है और हम उसको पटाना चाहते है तो इसके लिए ये शायरी बहुत ही अच्छी है.

क्यूंकि ये कहा जाता है ना की अगर किसी भी लड़की को इम्प्रेस करना है तो उसकी खूबसूरती की तारीफ करो तो फिर दोस्तों चलिए सीधे इस पोस्ट को स्टार्ट करते है.

लड़की की तारीफ शायरी

ladki ki tareef shayari

1.
तुम्हारी खूबसूरती की क्या तारीफ करें
तुम्हें तो खुदा ने बड़ी फुर्सत से बनाया है
हम तो सिर्फ तुम्हें देख सकते हैं
तुम्हें निहार सकते हैं जिसको तुम मिलोगे
उसकी किस्मत को खुदा ने खुद अपने हाथों से बनाया है
2
मैंने तुम्हें हमेशा उस नजर से देखा है
जिस नजर से तुम्हें कभी नजर ना लगे
तुम हमेशा मेरे दिल में रहती हो
तुमसा कभी मुझे कोई प्यारा ना लगे
3
तुमसे ज्यादा मैं किसी को पसंद कर नहीं सकता
तुमसे ज्यादा मैं किसी को चाहा नहीं सकता
तुम ही मेरी जिंदगी की इकलौती धड़कन हो
तुम्हारे अलावा मैं किसी और को सोच नहीं सकता
4
मैंने सोचा नहीं था इस तरह मोहब्बत में में आवारा हो जाऊंगा एक नजर तुझको देख लूंगा और पागल हो जाऊंगा
मैंने तो हमेशा तुझे दिलो जान से चाहा था
मैंने नहीं सोचा था मैं तेरे इश्क में इस कदर खो जाऊंगा
5
तुझसे मोहब्बत की है मैंने और तुझसे ही निभाऊंगा
मैं हर वक्त तेरे पास चला जाऊंगा
तू चाहे मुझसे कितनी भी दूर रहना
मैं तो तेरी जुल्फों के बादल में खो जाऊंगा
6
मुझे वह इतनी प्यारी लगती है मुझे वह सबसे हसीन लगती है उसके अलावा मैं किसी और को देखना पसंद नहीं करता
वह मुझे मेरे ख्वाबों की अप्सरा लगती है
7
मैंने हमेशा उसे अपनी नजरों में बसाया है
मैंने हमेशा उसे दिलो जान से चाहा है
वह मेरे दिल का हिस्सा है
मैंने उसे हमेशा अपनी दिल में सजाया है
8
तुम्हारी खूबसूरती की तारीफ करनी हो तो
मेरे अल्फाज कम पड़ जाते हैं
शायरों की लिखी हुई गजल अधूरी रह जाती है
तुम्हारी तारीफ करने के लिए लिखता हूं
हर रोज कुछ चंद लमहे
पर उन लम्हों की खूबसूरती भी
तुम्हारी खूबसूरती के आगे कम पड़ जाती है
9
तारीफ किसी शायर ने किसी की आज तक ऐसी कि ना होगी
मैं तुम्हारी वैसी तारीफ करना चाहता हूं
मैं सिर्फ तुम्हारी आंखों में देखकर ही
तुम्हारे दिल का हाल बताना चाहता हूं
10
तुम्हारी आंखे इतनी खूबसूरत हैं कि
मैं सिर्फ तुम्हें देखता रहना चाहता हूं
मैं सिर्फ तुमसे करता हूं मोहब्बत
और तुमसे ही करता रहना चाहता हूं
11
मैंने तुमसे इतनी मोहब्बत की है
मैंने तुमसे इतनी चाहत की है
एक तुम ही हो मेरे दिल की धड़कन
और मेरे दिल में रहती हो
मैंने तुमसे ही हमेशा इश्क इबादत की है
12
तेरे बिना मेरा गुजारा हो नहीं सकता
एक तेरे सिवा कोई और मेरा हो नहीं सकता
मैं हमेशा तुझे ही चाहता हूं और चाहता रहूंगा
तेरे अलावा कोई मेरा दिल में किसी का जगह हो नहीं सकता
13
जब भी तुम्हारे साथ रहता हूं मुझे सब कुछ अच्छा लगता है
फिर मुझे यह लम्हा भी बहुत हसीन लगता है
पर तेरी खूबसूरती के आगे कोई कुछ भी नहीं है
मुझे तो तू और बस तूही सबसे ज्यादा प्यारा लगता है
14
हमेशा तेरे ख्वाबों में खोया रहना चाहता हूं
मैं सिर्फ और सिर्फ तेरा होकर रहना चाहता हूं
तू ही मैं दिल की धड़कन है यह मैं आज सबको बता दूंगा
मैं सिर्फ और सिर्फ तुझसे ही मोहब्बत करना चाहता हू
15
मेरी मोहब्बत में कभी कोई दूसरा नहीं आएगा
तेरे अलावा में कभी किसी और को नहीं चाहूंगा
तेरी तारीफ में कैसे कहूं अल्फाजों में
मैं तुझे कभी इस दिल से निकाल नहीं पाऊंगा
16
मैं तुम्हें दिल से निकाल भी दूंगा तो क्या हो जाएगा
मुझे और कोई दूसरा मिल भी जाएगा तो क्या हो जाएगा
तेरी खूबसूरती की तारीफ उससे भी करूंगा
पर तू मुझे ना भी मिलेगा तो क्या हो
17
तुझे शायद खुदा ने मेरे पास इसीलिए भेजा है
तू सबसे हसीन है मेरे लिए इसीलिए यह तोहफा भेजा है
मैं शुक्र करता हूं उस ऊपर वाले का
जिसने तुझे बनाया है और मेरे करीब भेजा ह
18
तुम्हारे अलावा किसी और को
देखने को दिल ही नहीं करता
तुम्हारे अलावा किसी और से
मोहब्बत करने को दिल ही नहीं करता
एक तुम ही धड़कन हो मेरी इकलौती
तुम्हारे अलावा किसी और को चाहने का
दिल ही नहीं करता
19
मैं तो सिर्फ तुमसे मोहब्बत करना चाहता हूं
मैं सिर्फ तुम्हारा होकर रहना चाहता हूं
एक तुम ही मेरी जान बन जाना
मैं तुम्हें ही अपनी जानेमन बनाना चाहता हू
20
सफर कुछ इस तरह हम सारा निकाल देंगे
हम सिर्फ तुम्हें और तुम्हें ही दिल में बसा लेंगे
लोग कितना भी कहे हमें नहीं मालूम क्या होता है
हम सिर्फ और सिर्फ तुमसे ही मोहब्बत निभा लेंगे
21
तेरी खूबसूरती के अल्फाज मेरे पास कम पड़ जाते हैं
एक तू ही होता है हमेशा मेरे पास मेरे
लिखे हुए दर्द तो कम पड़ जाते हैं
बरस जाते हैं बादल तेरी खूबसूरती की तारीफ करते हुए
यह शाम के आशियाने और मौसम के परिंदे कम पड़ जाते
22
आसमान में उड़ते हुए परिंदों को जब मैं देखता हूं
मुझे तेरा चेहरा याद आता है
तेरी खूबसूरती भी वैसी ही है
जैसे मुझे कोई छोटा बच्चा भा जाता है
23
तेरे लिए मैं क्या अल्फाज लिखूंगा
तेरे लिए मैं क्या मोहब्बत लिख लूंगा
तू तो मेरी मोहब्बत है
मैं इससे ज्यादा तुझे क्या लिखूंगा
24
हमेशा तुझे दिल से चाहा है
हमेशा तुझे अपना माना है
एक तू ही मेरी जिंदगी का रोशन सितारा है
जिसे मैंने खुद से ज्यादा चाहा है
25
मैं हमेशा तेरी खूबसूरती की तारीफ ऐसे ही करता रहूंगा
तू हमेशा मेरे पास रहना
मैं तुझ पर दिलों जान फिदा करता रहूंगा
तू हमेशा मेरा ख्याल रखना
मैं इसी तरह तेरे पास रहता रहूंगा
26
मैंने कभी नहीं सोचा था एक ऐसा दिन भी आएगा
तू मेरे पास रहेगा लेकिन मुझे याद नहीं कर पाएगा
पर तेरी वह हसीन लमहे उन में बिताए हुए पल
मुझे आज भी याद है तेरी आंखों का काजल
और चेहरे का नूर मुझे आज भी याद है
27
मैं तुझे चाह कर भी भुला नहीं सकता
तुझे दिल से निकाल नहीं सकता
तेरी खूबसूरत यादें मेरे दिल में इस कदर बस चुकी हैं
जो तेरा मासूम चेहरा में कभी भुला नहीं सकता
28
तेरी मासूम चेहरे की झलक मुझे आज भी याद आती है
तुझसे मिलना तुझसे बिछड़ ना आज भी याद आता है
पर तेरी खूबसूरती की तारीफ में जब भी करता हूं
तो मेरा लिखा हुआ हर लफ्ज़ कम पड़ जाता है
29
मैंने शायद तुझसे मोहब्बत की थी
मैंने शायद तुझसे ही मांग की थी
तू ही था मेरा हमसफ़र
मैंने हमेशा तुझसे चाहत की थी
30
मैंने तेरी मोहब्बत को ही सब कुछ माना है
मैंने तुझे ही अपना सब कुछ माना है
मैंने छोड़ दिया तेरे लिए हर एक को
मैंने तुझे अपना खुदा और दिलो जान से अपना माना है
31
एक सफर में तेरे साथ गुजारना चाहता हूं
मैं तेरे संग ही मोहब्बत के लम्हे बिताना चाहता हूं
तूने मुझे सब कुछ दिया है मानता हूं मैं
पर मैं तेरे साथ थोड़ा सा वक्त बिताना चाहता हूं
32
तेरे साथ बिताया हुआ वक्त मुझे सबसे खूबसूरत लगता है
मेरी यादों में वह मुझे अपना सा लगता है
एक तू ही मेरी जिंदगी है
और मैं तुझे ही अपना सब कुछ मानता हूं
एक तू ही मुझे अपना सब कुछ लगता है
33
मैंने तुझे हमेशा दिलो जान से चाहा है
मैंने हमेशा तुझे ही मोहब्बत में अपना खुदा माना है
मैं तुझसे ऐसे ही मोहब्बत करता रहूंगा
मैंने तुझे हमेशा अपना हमसफर माना है
34
तू कहता है कि मैं तेरी तारीफ नहीं करता
पर मैं तेरे अलावा किसी से मोहब्बत नहीं करता
तेरी जुल्फें भी इतनी खूबसूरत लगती है मुझे
कि मैं उनके अलावा किसी और की तारीफ नहीं करता
35
मोहब्बत में मैंने उसके सिवा किसी और को नहीं देखा
जब से उसको देखा फिर मैंने किसी और की तरफ नहीं देखा मैंने उसे ही चाहा है हमेशा अपने दिल और जान से
मैंने उसके अलावा फिर किसी को प्यार की नजर से नहीं देखा
36
मैं हमेशा उससे प्यार करता रहा
मैं हमेशा उस से मोहब्बत करता रहा
वही मेरी जान रही हमेशा
मैं खुश ही अपनी जान मानता रहा
37
मैं अपनी जिंदगी को इस तरह जीना चाहता हूं
मैं अब किसी के पास नहीं रहना चाहता हूं
उसका ही चेहरा आता है मेरे ख्यालों में
मैं उसके अलावा किसी और की तारीफ करना नहीं चाहता हूं
38
ओ मेरी जिंदगी कहां हसीन सितारा है
वह मेरी रातों का हसीन लमहे जब भी उसे देखता हूं मैं
तो खो जाता हूं उसमें मेरी जिंदगी का रोशन सितारा है
39
मैंने हमेशा उसकी तारीफ की है
मैंने उसे इस दुनिया में सबसे अच्छा बताया है
मै सिर्फ करता हूं उससे मोहब्बत
यह मैंने उसे बहुत बार जताया है
40
हर बार मुझे उसका ही चेहरा नजर आता है
मुझे ख्यालों में वही नजर आता है
उसके सिवा मेरा कोई नहीं है इस दुनिया में
मुझे उसके सिवा कोई दिखाई नहीं देता है
41
मुझे सिर्फ उससे प्यार मुझसे मोहब्बत होती है
मुझे सिर्फ उसका ही इंतजार और उससे ही बात होती है
मैं सिर्फ उसे ही रखता हूं अपने ख्यालों में
मुझे उसकी खूबसूरती इतनी प्यारी होती है
42
मुझे इतनी प्यारी लगती है
और मुझे जान से ज्यादा मेरी अपनी लगती है
उसकी आंखों में जो नूर है वह किसी और के पास नहीं
वह मुझे कोई उसने परी लगती है
43
मै उससे कितनी मोहब्बत करता हूं
यह तो मैं किसी को दिखा भी नहीं सकता
उसकी खूबसूरती की तारीफ में किसी को बता भी नहीं सकता मैं हमेशा लिखता हूं उसे अपने लफ्जों में
और मे उन लफ्जों को किसी को सुना भी नहीं सकता
44
उसकी हमेशा मुझसे एक शिकायत रहती है
मैं उसकी तारीफ नहीं करता यह उसके दिल में चाहत रहती है पर मैं कैसे बताऊं तुम इस दुनिया की
सबसे खूबसूरत लड़की हो
जिसको पाने की एतिहाद सबको रहती है
45
मैं सिर्फ तुम्हें ही अपने दिल से लगाना चाहता हूं
मैं सिर्फ और सिर्फ तुमसे ही मोहब्बत करना चाहता हूं
तुम नहीं जानते तुम मेरे लिए कौन हो
मैं सिर्फ तुम्हें ही अपना बनाना चाहता हूं
46
मैं अपनी जिंदगी में सिर्फ तुम्हें ही लेकर आऊंगा
मैं सिर्फ और सिर्फ तुमसे ही प्यार जता लूंगा
तुम मेरी जिंदगी का वो हो रोशन सितारा हो
मैं तुम्हारे लिए कुछ भी कर जाऊंगा
47
तुम्हारी खूबसूरती के चर्चे तो हार और होते हैं
तुम्हारी हर अदा के चर्चे हर और होते हैं
माना कि तुम्हें पा ना कोई बच्चों का खेल नहीं
पर हमारे दिल में भी यूं ही नहीं कोई और होते हैं
48
हमने तुम्हें पूरे दिल से चाहा है
हमने तुम्हें पूरे दिल से माना है
तुम हमेशा हमारे दिल की वह मल्लिका रहोगी
यह हमने अपने ख्वाबों में सजाया है
49
मैं सिर्फ तुम्हारे ही ख्वाब देखा करता हूं
ख्वाबों में भी तुम्हारी तारीफ करता हूं
जब से देखा है मैंने तुम्हें एक नजर
मैं तुम्हारी खूबसूरती में हो जाया करता हूं
50
तुम्हारी आंखों में देखने से मुझे डर लगता है
मुझे तुम्हारे पास आने से डर लगता है
कहीं में तुम्हारी खूबसूरती को देखकर पिघल जाऊ
मुझे तुम्हारे गले लगने से भी डर लगता है
51
तुम बस हमेशा मेरे साथ रहना तुम बस हमेशा मेरे पास रहना तुम्हारी खूबसूरती की इससे ज्यादा मैं तारीफ क्या कर सकता हूं मैंने तुम्हारे जैसा आज तक कोई नहीं देखा है
तुम हमेशा मेरे दिल में रहना
52
मैं तुम्हें अपने दिल से कभी नहीं छोड़ना नहीं चाहता
मैं कभी किसी और के पास तुम्हें देखना नहीं चाहता
जब से देखा है मैंने तुम्हें तुम्हारे अलावा मुझे और कोई नजर नहीं आता।।
53
मैं किसी और से कैसे मोहब्बत कर सकता हूं
मैं किसी और से कैसे प्यार कर सकता हूं
तुम्हारी आंखें बस चुकी है मेरी नजरों में
मैं हूं ने कैसे अपने आप से जुदा कर सकता
54
मैं खुद को कभी तुमसे जुदा नहीं कर सकता
मैं खुद को कभी तुमसे दूर नहीं कर सकता
तुम्हारे चेहरे में वह नूर है
जो मुझे हमेशा तुम्हारी तरफ से चलाता है
मैं कभी तुमसे चाह कर भी तुमसे दूर नहीं जा सकता
55
मैंने जब तुम्हें पहली बार देखा था मैंने तो भी सोच लिया था
मुझे तुम्हारे जैसा और कोई नहीं मिलेगा
मेरे दिल में तभी ख्याल आ गया था
मैंने हमेशा तुम्हें उसी दिन से अपना मान लिया
तुमसे मोहब्बत करके तुम्हारे लिए
अपनी जान भी हाजिर कर दिया
56
सफर जिंदगी का ऐसे ही निकल जाता है
हमें यहां कोई नहीं मिल पाता है
हम रहते हैं बस इंतजार में लोगों के
लोग चले जाते हैं छोड़कर
तुम्हारे जैसा हसीन खूबसूरत सितम
हमारे साथ हो जाता है
57
दुश्मन तुम्हारे जैसा खूबसूरत हो
तो फिर हम उसकी खूबसूरती के कायल हो जाते हैं
वह चाहे हमारी जान भी ले ले हम उसके प्यार में पड़ जाते हैं तुम्हारे खूबसूरत यह क्या तारीफ करें हम
हम तुम्हें देखते हैं तुम्हारे ख्यालों में खो जाते हैं
58
तुम्हें देखने के सिवा हमें कुछ और नहीं आता
तुम से मोहब्बत करने के सिवा हमें कुछ और नहीं आता
तुम ही रहती हो हमारे खयालों में हरदम हमेशा
हमें तुम्हारे अलावा किसी का ख्वाब नहीं आता
59
हम किसी और का ख्वाब देखना नहीं चाहते
हम किसी और को अपना बनाना नहीं चाहते
हम सिर्फ अपनी जिंदगी में खुश रहना चाहते हैं
हम किसी से प्यार मोहब्बत जताना नहीं चाहते
60
इस तरह मोहब्बत हम से तुम मुझे बताओगे
तो फिर तुम हमें छोड़ कर कैसे जा पाओगे
हमें तुमसे प्यार किया है हमेशा करते रहेंगे
तुम्हें कभी जिंदगी भर भुला नहीं पाओगे
61
माना तुम भी कहीं किसी चंद रोशनी परी लगती हो
पर हम भी किसी से कम नहीं है
इसलिए तुम हमारे दिल में रहती हो
हर किसी के बस में नहीं होता तुम्हारे जैसी लड़की को मिलना पर तुम हमारी किस्मत में शायद खुदा की लिखी हुई हो
62
मेरी किस्मत पर में हमेशा नाज़ करता हूं
मुझे तुम्हारे जैसा कोई मिला यही में फरियाद करता हूं
तुम्हारे अलावा मेरा कौन है इस दुनिया में
मैं किसी को अपना नहीं मानता
मैं सिर्फ और सिर्फ तुमसे ही प्यार करता हूं
63
मैंने तुम्हें अपना माना है मैंने तुम्हें ही अपना सब कुछ दिया है
मैं सिर्फ तुमसे ही प्यार करता हूं और करता रहूंगा
मैंने तुम्हें अपना दिल दिया है
64
मैं अब तुम्हें छोड़कर कभी जाना नहीं चाहता
मैं कभी किसी और से मोहब्बत करना नहीं चाहता
तुम ही मेरी जिंदगी कि वह इकलौती परी हो
जिसे मैं चाह कर भी मुझसे दूर करना नहीं चाहता
65
मैं तुम्हारे बिना रह नहीं सकता
मैं तुम्हारे सिवा किसी और से मोहब्बत चल नहीं सकता
तुम ही हो मेरे दिल में और हमेशा रहोगे
मैं तुम्हारे अलावा किसी और को चाहा नहीं सकता
66
मैं तुम्हें कैसे बताऊं कि यह दिल अब तुम्हारा हो चुका है
मैं तुम्हारी खूबसूरती कैसे तारीफ करूं
कि मेरा दिमाग भी उसमें खो चुका है
मेरे ख्यालों में रहती हो तुम हरदम
और मेरी जिंदगी का हर किस्सा तुम्हारे नाम हो चुका है
67
जब भी तुम चलती हो तो जैसे नदी शीतल लगती है
तुम्हारे ख्वाब देखने से भी मुझे यह दुनिया हसीन लगती है
तुम इतनी खूबसूरत हो कि
तुम्हारी जुल्फों में देखने से यह दुनिया भी खूबसूरत लगती है
68
इस तरह की लड़की का में ख्वाब देखना चाहता था
उस तरह की मेरी जिंदगी की हसीन लड़की होतुम मैंने तुम्हें दिल से चाहा है और दिल से अपना माना है
तुम ही मेरी चाहत मेरी जिंदगी के हसीन लम्हा हो तुम
69
मैंने अपनी जिंदगी तुम्हारे नाम कर दी है
मैंने अपना सब कुछ तुम्हारे नाम कर दिया है
तुम ही रहती हो मेरे ख्वाबों खयालों में हमेशा
मैंने अपनी जिंदगी का हर लम्हा तुम्हारे नाम कर दिया
70
तुम्हारी आंखें ऐसी लगती है जैसे कोई झील की गहराई हो
जिन्हें बैठकर बस में लंबे समय तक देखना चाहता हूं
तुम्हारे चेहरे को निहार कर
मैं उसमें खूबसूरती के रंग भरना चाहता हूं
71
मैं खुदा ने इतना खूबसूरत बनाया है
जो तुम्हें एक नजर देख ले
वह तुम्हारे प्यार में पड़ जाए
तुम्हें उस खुशियों से खुदा ने नवाजा है
72
कुसूर किसी और का नहीं होता कि
वो तुम्हारे प्यार में पड़ जाता है
तुम्हारा हुस्न ही है ऐसा है कि
हर किसी का दिल तुम पर आ जाता है
हर कोई चाहता है तेरे पास बैठना
पर लाखों में से किसी एक को ही मौका मिल पाता है
73
मैं कभी सोचा नहीं था कि तुम को देखूंगा
मैंने कभी सोचा नहीं था मुझे तुमसे मोहब्बत कर पाऊंगा
तुम तो मेरी जिंदगी का हसीन सितारा लम्हा थी
मैंने कभी सोचा नहीं था मैं तुमसे प्यार कर पाऊंगा
74
कोई भी तुम्हें देखकर तुमसे प्यार करने लगेगा
कोई भी तुम्हें देखकर तुम पर एतबार करने लगेगा
तुम्हारी आंखों में सिर्फ और सिर्फ सच दिखाई देता है
तुम्हारे चेहरे से ज्यादा कोई भी
तुम्हारे दिल से मोहब्बत करने लगेगा
75
खुदा ने तुम्हें खूबसूरती के साथ साथ ही अच्छा दिल भी दिया है जिसमें दूसरों के लिए प्यार मोहब्बत भी दिया है
तुम्हारे दिल में हर किसी के लिए दया होती है
मगर तुम्हारे को खुदा ने उसके साथ-साथ गुरुर भी दिया है
76
मैं तुम्हें कैसे चाहूंगा मैं तुमसे कैसे मोहब्बत करूंगा
मैं तुम्हें बता नहीं सकता
मैं अपने दिल की जो जगह है वह तो मैं दिखा नहीं सकता
मैंने तुम्हें हमेशा अपनी नजरों से देखा है
जिन नजरों से तुम्हें कोई देख नहीं सकता
77
मैंने कभी तुम्हारे बारे में गलत नहीं सोचा
मैंने कभी तुम्हारे बारे में बुरा नहीं सोचा
मैंने तो हमेशा चाहा है तुम्हें पूरे दिल से
मैंने कभी तुम्हें किसी और के साथ नहीं देखा
78
मैं तुम्हें कभी किसी और के साथ देखना भी नहीं चाहता
मैं कभी तुम्हारे अलावा किसी और से
मोहब्बत करना भी नहीं चाहता
तुम ही से चाहता हूं मैं इश्क मोहब्बत और वफ़ा
मैं तुम्हारी खूबसूरती के अलावा
किसी और को निहारना भी नहीं चाहता
79
मैं सिर्फ और सिर्फ तुम्हारी खूबसूरती को निहारना चाहता हूं
मैं सिर्फ और सिर्फ तुमसे ही मोहब्बत करना चाहता हूं
तुम्हारे अलावा मैं किसी को नहीं मानता अपना
मैं सिर्फ और सिर्फ तुमसे ही प्यार करना चाहता हूं
80
यह सफर जिंदगी का ऐसे ही निकल जाएगा
कोई कभी किसी के पास नहीं आएगा
मैं सिर्फ तुम्हें चाहता हूं तुम्हें ही चाहता रहूंगा
यह मोहब्बत का लम्हा भी ऐसा ही गुजर जाएगा
81
तेरी खूबसूरती की तारीफ में मैंने किताबें लिखी है
तेरी खूबसूरती की तारीफ में मैंने शायरियां लिखी है
हरदम मैंने कहानियों में तुझे पाया है
तेरी खूबसूरती को खुदा ने बड़ी फुर्सत से बनाया है
82
इतनी आसानी से कोई किसी को मिल नहीं जाता
इतनी आसानी से कोई किसी से मोहब्बत नहीं करता
अरे यहां तो लोग भूल जाते हैं दिल और जज्बात से
कोई इतनी आसानी से किसी को प्यार नहीं करता
83
आज कितनी हमें किसी पर ऐतबार करना
सबसे बड़ा भूल हो सकता है
पर मैंने दिल खूबसूरत तुझको देखा तो चांद भी फीका पड़ गया मैंने तुमसे प्यार कर लिया और मैं अपने उसूलों से लड़ गया
84
तुमसे ही चाहत और तुमसे ही मोहब्बत है
मुझे तुमसे इश्क कोई इबादत है
मुझे तुम्हारे अलावा किसी और को मैं सोच भी नहीं सकता
तुम से ही हसीन मुलाकाते और हसीन मोहब्बत है मुझे
85
तुम मेरे साथ रहो हमेशा मैं बस यही चाहता हूं
मैं सिर्फ और सिर्फ तुम्हें ही चाहता हूं
तुम्हारे अलावा मैं किसी और से
मोहब्बत करने के बारे में सोच भी नहीं सकता
मैं सिर्फ और सिर्फ तुम्हें ही अपना सब कुछ मानता हूं
86
मैं तुम्हें अपना सब कुछ मानता हूं
मैं तुम्हें ही दिलो जान से अपना मानता हूं
तुम हमेशा रहती हो मेरे खयालों में
और मैं तुम्हें खुदा का दिया हुआ तोहफा मानता हूं
87
एक बार तुमने मेरे बारे में सोचा होता
एक बार तो तुमने मुझसे मोहब्बत किया होता
मैंने कब कहा था तुमसे कि मुझे छोड़कर चली जाओ
मैंने तुम्हारी इतनी तारीफ की थी
जरा एक बार तो मेरे बारे में सोचा होता
88
अब तेरे हुस्न की क्या तारीफ करें हम
हमने खुदा से तेरी फरियाद किया है
वह तुझे हमेशा सलामत सलामत रखे
और तेरी खूबसूरती को हमेशा जवां रखें
89
एक बात तुम हमेशा याद रखना
एक बात तुम हमेशा अपने दिल में रखना
इस दुनिया में कौन किसी का नहीं हो सकता
ये हमेशा याद रखना
90
मोहब्बत अगर इतनी आसानी से मिल जाती
तो फिर क्या बात थी
तुम हमें इतनी आसानी से मिल जाती तो फिर क्या बात थी
हमें ने तुम्हें एक नजर देखा था उस नजर में
हम तुमसे मोहब्बत कर बैठे तुम्हारी खूबसूरती ही ऐसी थी
उसमें हुस्न मै कुछ तो बात थी
91
तुम्हारी खूबसूरती के चर्चे बेशक हजार होंगे
तुम्हें दिल देने के लिए भी बहुत से तैयार होंगे
पर तुम्हें गुलाब की तरह सिर्फ में रख सकता हूं
वरना काटे तो इस दुनिया में हजार होंगे
92
गुलाब की पंखुड़ियों सी नाजुक हो तुम
तुम्हें मेरे सिवा कोई भी दर्द दे नहीं सकता
तुम सिर्फ मेरे पास रहोगी तुम्हें बता रहा हूं मै
मैं तुम्हें खुद के अलावा किसी और से
मोहब्बत करने दे नहीं सकता
93
मैं तुम्हारी फिक्र करता हूं मैं तुम्हारी तारीफ करता हूं
मैं तुम्हें कैसे बताऊं मैं तुमसे प्यार करता हूं
तुम्हारी खूबसूरती की तारीफ करना ही जरूरी नहीं होता
मैं तुम्हारे दिल से और तुम्हारी आवाज से भी मोहब्बत करता हूं
94
अगर तुम मेरे बारे में सोच लो कि
थोड़ा सा अगर तुम मुझसे प्यार कर लो
कि तुम्हारी खूबसूरती को थोड़ा सा हटा कर
तुम अपनी आंखों पर मोहब्बत का पर्दा गिरा लो
फिर तुम्हें यह दुनिया खूबसूरत लगेगी
और तुम्हारी खूबसूरती और भी बढ़ जाएगी
जब तुम मुझसे मोहब्बत कर का इजहार कर लो
95
सफर जिंदगी का ऐसे ही निकल जाता है
यहां पर कौन कब किसको मिल पाता है
मोहब्बत करते हैं सिर्फ चंद लोग यहां पर
और खूबसूरत चेहरों के झांसे में इंसान पड़ जाता है
96
हमें इससे ज्यादा तुमसे कुछ कहना नहीं चाहता
तुम्हारी खूबसूरती उस लिखे हुए छंद की तरह है
जिसे मैं बार बार पढ़ना कि चाहता हूं
पर कभी उसे दिल से लगा नहीं सकता
चाहे कितने भी कर लूं में उसे दूर करने की कोशिश
मगर में उसे अपनी नजरों से जुदा नहीं कर सकता।।
97
मै तुम्हे ये तो नहीं कह सकता कि तुमसे सुंदर कोई नहीं है
पर तुमसे अच्छा इस दुनिया मै कोई नहीं है
खुदा भी तुझे बनाकर इतराता होता खुद पर
की इससे ख़ूबसूरत दुनिया मै कोई नहीं है।।
98
तुम्हारी खूबसूरती का कोई जवाब नहीं
तुम जैसा कोई हंसी लाजवाब नहीं
तुम हो ख़यालो में मेरे हमेशा
तुम जैसा ख़ूबसूरत इस जहां में कोई नहीं।।
99
कुछ बातें सिर्फ़ तुमसे कह सकता हूं मै
क्युकी तुम मेरे दिल को समझ सकती हो
तुम्हारी आंखें ही पढ़ लेता हूं मै
की तुम भी मुझसे मोहब्बत कर सकती हो।।
100
जब से तुम्हें देखा है
मै किसी और को देखना ही नहीं चाहता
मोहब्बत तो दूर की बात है
मै तुम्हरे सिवा किसी को सुनना भी नहीं चाहता।।

Final Words:

तो दोस्तों ये था लड़की की तारीफ शायरी, हम उम्मीद करते है की आपको ये सभी शायरी बहुत पसंद आई होगी. दोस्तों यदि आप किसी भी लड़की को पटाना चाहते हो या फिर उसको इम्प्रेस करना चाहते हो तो ये शायरी उनके साथ जरुर शेयर करे और फिर देखना वो आपकी ताराफ attract होती चली जाएगी धन्येवाद.

Leave a Comment

Your email address will not be published.