बॉयफ्रेंड के लिए लव शायरी | Love Shayari For Boyfriend in Hindi

हेल्लो दोस्तों आज का पोस्ट बहुत ही स्पेशल होने वाला है क्यूंकि इस पोस्ट में हम आपके साथ बहुत ही प्यार भरी और रोमांटिक बॉयफ्रेंड के लिए लव शायरी शेयर करने वाले है जिसको पढ़कर आपके bf को आपके ऊपर और भी ज्यादा प्यार आ जायेगा.

इसके अलावा आप इन शायरी को किसी भी लड़के के साथ शेयर कर सकती हो जिसको आप लाइक या प्यार करती हो, या फिर उसको जिसको आप इम्प्रेस करना चाहती हो.

ये शायरी बहुत ही जबरदस्त है तो फिर चलो सीधे पोस्ट को स्टार्ट करते है.

बॉयफ्रेंड के लिए लव शायरी

Love Shayari For Boyfriend in Hindi

love shayari for boyfriend in hindi

1
उनके सिवा कुछ याद नहीं रहता
मोहब्बत बढ़ रही है हमारी वहीं रहते हैं दिल में
अब उनके सिवा किसी का इंतजार नहीं रहता

2
एक उसका ही चेहरा याद रहता है
एक उसका ही इंतजार रहता है
मोहब्बत में बच्चा सा बन गयी हूं मैं
उसके बिना मुझे किसी का ख्याल नहीं रहता है

3
वह जब भी मेरे पास होता है
फिर मुझे किसी बात का कोई गम नहीं होता
सिर्फ उसको ही चाहता हूं मैं
उसके बिना मेरा कोई हमसफ़र नहीं होता

4
उसने भी मेरे लिए सब कुछ किया है
जो खुशी मुझे किसी ने नहीं दिया आज तक
वह उसने मुझे दिया है
मैं भी उसे हमेशा खुश देखना चाहती हूं
मैंने इश्क में उसे अपना दिल दिया है

5
वह जहां भी रहे खुश रहे
उसकी खुशी के लिए मैं कुछ भी कर सकती हूं
अगर आई उस पर मुसीबत तुम किसी से भी लड़ सकती हूं।।

6
निकल जाउंगी मैं एक रोज उसकी तलाश में
वह मेरे पास आता नहीं है,मुझे उससे मिलने की तलब बहुत है और वह मुझसे मिलने आता नहीं है

7
वह मुझे मिले तुम्हें उसे अपने दिल का हाल बताऊं
जो भी बातें हैं मैं उसे समझाऊं,,
उसके बिना नहीं लगता है दिल मेरा
यह उसको मैं कैसे समझाऊं

8
जिंदगी एक सफर है और मैं वह सफर करते रहना चाहती हूं

मोहब्बत मुझे सिर्फ उससे ही है

यह मैं उसे बताना चाहती हूं
एक रोज मिलूंगी जब मैं उससे

उसे गले से लगाना चाहती हूं

9
जब वह मेरे करीब आता है मेरे दिल पर असर कर जाता है
उसे गले से लगा लूं और छोडूं ही ना
मैं हर बार यह हवाएं मुझसे कह जाती है

10
हर जगह उसकी खुशी के लिए प्रार्थना कर आय
उसकी खुशी के लिए दुआएं कराएं
हमने मोहब्बत बहुत की है उनसे
बोलो हम उनके लिए अपनी जान दे आय

11
हमने दिन और रात को एक किया है
उनकी खुशी के लिए हमने सब कुछ किया है
वह अगर जाना चाहे हमसे दूर हमने उन्हें नहीं रोका
हमने मोहब्बत में एक तरफा प्यार भी किया है

12
मेरा तो जो भी था एक तरफा ही था
उसकी तरफ से तो कभी कुछ नहीं था
मैंने चाहा है उसे अपनी जान से ज्यादा
उसकी तरफ से तो कोई मोहब्बत का बसेरा नहीं था

13
मोहब्बत कुछ इस तरह बढ़ जाती है
मिलते हैं हम एक दूसरे से और ये रातें ऐसे ही थम जाती हैं
वह बैठी रहती है मेरी बाहों में मैं उसे देखती हूं
पर यह मोहब्बतें ऐसे ही बढ़ती जाती है

14
मोहब्बत की राहों में मैंने सब कुछ देखा है
मैंने उसे किसी और के पास भी देखा है
पर वह सिर्फ मेरा है तुम्हें वह सब कुछ भुला चुकी हूं
मैंने अब उसे सिर्फ अपने ख्यालों में देखा है

15
मैं उसे अपने पास रखना चाहती हूं
मैं उसे दिल से लगा कर रखना चाहती हूं
वह मेरी जान है मुर्शिद
मैं उसे कभी दूर नहीं करना चाहती हूं

16
उससे मिलने की ख्वाहिश मेरे दिल में हमेशा रहा करती है

कभी-कभी मन करता है चले जाऊं उसके पास
उसको पहले से डराने की ख्वाहिश दिल में रहा करती है
पर मिल ही नहीं पाती है वह मुझे कभी
मेरी मोहब्बत हमेशा सफर करती है

17
सफर में दो अनजान मिले थे हम
एक दूसरे से हो कर दो जान मिले थे हम
फिर एक दूसरे के इतने करीब आ गए हम
फिर मोहब्बत में दो राही मिले थे हम

18
यह मोहब्बत हमें ऐसे ही बढ़ती रहना चाहिए
इश्क किया है अगर तो  इश्क होना चाहिए
निभाया है अगर तुमने रिश्ता हमसे तो हम भी निभाएंगे
मोहब्बत में तेरा और मेरा नहीं होना चाहिए

19
मैंने कभी उससे तेरा और मेरा नहीं किया
मैंने कभी उससे कोई धोखा नहीं किया
जो था उसे सच बता दिया मैंने
मोहब्बत में कभी बेवफाई नहीं किया

20
वह तो मुझे आज भी याद आता है
वह मुझे हमेशा याद आता रहेगा
वह मेरी मोहब्बत है यह जानती हूं मैं
और वह मुझे ऐसे ही रुलाता रहता है

21
वह मोहब्बत ही क्या जो तकलीफ ना दे
वह प्यार ही क्या जो साथ ना दे
और उसने मुझे यह दोनों दिया है
मेरे हर सफर में उसने मेरा साथ दिया है

22
वह मेरे साथ है इससे ज्यादा मुझे कुछ नहीं चाहिए
वह अगर साथ रहता है तो मैं हर मुश्किल से लड़ सकती हूं
आई उसके सामने अगर कोई परेशानी
में अपनी जान भी उसके लिए दे सकती हूं

23
अगर उसने मुझसे कुछ शिकायत ही की है
तो वो भी दूर कर दूंगी वह मेरी मोहब्बत है
मैं उसके लिए सब कुछ कर दूंगी
वह मेरे पास रहें और खुश रहें
इसके अलावा मुझे क्या चाहिए
मैं उसके लिए अपने आप को फना कर दूंगी

24
उसकी मोहब्बत में कुछ इस तरह मैं अपने आप हो चुकी हूं सिर्फ एक उससे दिल से लगा कर
हर एक को दूर कर चुकी हूं
मैं अब नहीं निभाती किसी से रिश्ता
में अब सिर्फ उससे मोहब्बत कर चुकी हूं

25
उसकी मोहब्बत ने ही मुझे जीना सिखाया है
मैं तो थी एक आवरी परी
उसने मुझे अपनी मोहब्बत के काबिल बनाया है
मैं उसे समझती हूं अपनी जान
उसने मुझे सीने से लगाया है

26
कभी मोहब्बत में मैंने उसे बुरा नहीं कहा
बात सोच समझ कर बोली मैंने
कभी उसके दिल को दर्द नहीं दिया
वह हमेशा कहता है मुझसे मैं बहुत अच्छा हूं
पर मैंने उसे कभी खुद को अच्छा नहीं कहा

27
वह हर पल मेरे साथ रहता है
वह हर पल मेरे पास रहता है
वह शायद करता तो नहीं है मुझसे मोहब्बत
फिर भी वह मेरे दिल के पास हमेशा रहता है

28
मोहब्बत उसे भी है मेरे से
पर वो मुझे दिखाई गा नहीं
और मोहब्बत करता है वह मुझसे बहुत
पर कभी जताएगा ही नहीं

29
वह आए तो मैं उसे अपने दिल का हाल बताऊ
कैसे जी रही हूं उसके बिना यह उसे समझाऊं
वह आ जाए एक बार बस मेरे पास लौट कर
फिर मैं उसे जी भरकर गले से लगाऊ

30
मुझे छोड़कर जाने की बात करता है
वह यह नहीं जानता वह मेरे बिना रहने की बात करता है
मैं नहीं रह सकती उसके बिना एक पल भी
और वह मर जाने की बात करता है

31
मैंने उसकी खुशी के लिए क्या नहीं किया
क्या मैंने मंदिरों में प्रार्थना नहीं किया
हर व्रत किया मैंने, क्या मैंने उसके लिए
क्या मैने सजदा नहीं किया

32
अब तुम हमसे थोड़ा दूर ही रहा करो
जो हमसे मोहब्बत ना किया करो
बस तुम रहते हो अगर ख़ुश तो भी हम भी खुश रहते हैं
हम से यह बेवफाई ना किया करो

33
मैंने उससे कभी झूठ नहीं बोला
मैंने उसे कभी अपने से दूर नहीं किया
हमेशा उसे अपने पास रखा मैंने
मोहब्बत में कभी उसे झूठा वादा नहीं किया

34
मैं कभी उसे खुद से दूर करना नहीं चाहती
मैं उसे कभी किसी और का होते हुए देखना नहीं चाहती
मैं उसे अपने घर पास ही लाऊंगी एक दिन
में उसे किसी और की होने देना नहीं चाहती

35
वह अभी किसी और का इंतजार करता है
और वह कहती है कि वह मुझसे प्यार करता है
अगर मुझसे है उसे मोहब्बत
तो फिर वह क्यों किसी और के बारे में सोचता है

36
किसी के सोचने पर किसी का बस नहीं होता
मोहब्बत होती है मगर हर कोई एक जैसा नहीं होता
मैंने सिर्फ उससे ही इश्क किया है
उसके बिना मेरा दिन और रात नहीं होता

37
वह मुझे कहता है मैं उसे अच्छी नहीं लगती
वह मुझे बहुत तंग किया करता है
और फिर हंस देता है मेरी नादानी पर
हां वह भी मुझसे प्यार किया करता है

38
मेरे ऊपर हंसना उसे अच्छा लगता है
और उसको खुशी देना मुझे अच्छा लगता है
वह खुश रहे इससे ज्यादा मुझे कुछ नहीं चाहिए
मुझे वह हर अदा में खूबसूरत लगता है

39
वह मुझे से हमेशा लड़ता है
वह मुझे हमेशा परेशान करता है
फिर भी मैं उसे कभी छोड़कर नहीं जाती
क्योंकि वह मुझसे खुद से भी ज्यादा प्यार करता है

40
वह बस ऐसे ही रहे और मुझे क्या चाहिए
मुझे उसके सिवा कोई मोहब्बत नहीं चाहिए
मैं तो प्यार करती हूं उससे
मुझे उसके सिवा और कोई महबूब नहीं चाहिए

41
मेरा प्यार उसके लिए कभी कम नहीं होगा
मेरा इंतजार उसके लिए कभी कम नहीं होगा
वह चाहे कितना भी दूर चला जाए
मेरे दिल से उसका ख्याल कभी कम नहीं होगा

42
रातों में मेरे ख्वाबों में सिर्फ वही आया करता है
अगर दूर हो जाती हूं उससे एक दिन तो
फिर वह हर रोज मुझे तड़पाया करता है
मैं उसके बिना अब एक पल भी नहीं रह सकती
और वह मुझे छोड़कर जाने की बात किया करता है

43
मैं उसके लिए कुछ भी कर सकती हूं

पर वह मुझे छोड़कर जाने की बात करता है

और मैं उसे कभी जाने नहीं दे सकती हु

क्यूंकि वो मेरे दिल की धड़कन जैसा है

44
हम हमसे बहुत दूर आ चुके हैं
दिल एक दूसरे से जुड़ चुके हैं
अब यह मोहब्बत हद से ज्यादा बढ़ चुकी है
और यह रिश्ता अब मजबूत हो चुका है

45
बस अब मोहब्बत की रह गई है तुमसे
और हमें उनसे कोई चाहत नहीं है
इश्क किया है हमने उनसे हमें, उनसे
कोई इबादत नहीं है
बिना उसकी चाहत की मोहब्बत की है मैंने
मेरी मोहब्बत में कोई शिकायत नहीं है

46
अब किसी से क्या चाहत करनी
अब किसी से क्या मोहब्बत करनी
वह चाहे किसी के भी साथ रहे
अब किसी से क्या इबादत करनी

47
एक उसके सिवाय हमें कुछ याद नहीं रहता है
उसके सिवा कोई हमें अपना नहीं लगता
एक वह है जिसे जान मानते हैं हम
उसके सिवा हमें कोई प्यारा नहीं लगता

48
मैं उसकी हर बात सुन लेता हूं
मैं सिर्फ और सिर्फ उससे मोहब्बत कर लेता हूं
मैं जो किसी की बात नहीं मानती थी
में उसका हर गुस्सा आसानी से सह लेता हूं

49
यह मैंने मोहब्बत में क्या कर दिया
मैंने उसे खुद से जुदा कर दिया
वह मेरा अपना लगता था
और मैंने उसे पराया कर दिया

50
मै उसे अपने दिल से पराया कर नहीं सकता
मैं उसे खुशी मोहब्बत में जुदा कर नहीं सकता
वह बस मेरे साथ रहे मैं यही चाहती हूं
मैं उसे कभी खुद से दूर कर नहीं सकती

51
उसकी खुशी ही चाहिए मुझे
और मैं उसके लिए किसी से भी लड़ जाउंगी
अगर मुझे जाना पड़े कहीं दूर
उसके साथ तो में आसानी से चले जाउंगी
बस मुझे अब उसके साथ रहना है
मैं उसके लिए कुछ भी कर जाउंगी

54
उसने हमेशा मेरा साथ दिया है
जब मुझे कुछ समझ नहीं आया
उसने मुझे समझाया है
वह हर पल रहा है मेरे साथ साया बनकर
उसने मोहब्बत में मेरा हाथ थामा है

55
आई लव यू कहना मोहब्बत नहीं होता
मोहब्बत में साथ देना भी जरूरी होता है
उसे मुझसे चाहत बहुत है
मुझे उससे मोहब्बत बहुत है
इसीलिए हमारा रिश्ता सबसे अलग बहुत है

57
मैंने जब उसे अपने प्यार का इजहार किया था
फिर देखो उसने भी मुझसे अपने प्यार का इजहार किया था
मैंने उसे लगा दिया था अपने गले से
और उसमें भी पलके झुका कर मोहब्बत का इकरार किया था

60
मे आज आखिरी बार कह रही हूं
मोहब्बत तुमसे ही है यह तुम्हें बता रही हूं
जो कोई भी आना चाहे मेरी जिंदगी में आ जाए
उसकी जगह ले नहीं सकता
मैं सिर्फ और सिर्फ उससे ही मोहब्बत निभा रही हु

61
इसके सिवा कभी किसी और से प्यार नहीं किया मैंने
इसके सिवा किसी और का इंतजार नहीं किया मैने
वही रहता है मेरे दिल में हमेशा
उसके सिवा किसी और का नाम नहीं लिया मैने

62
जब वह कहता है तुम अच्छे हो
मैं कहती हूं तुम बच्चे हो
जब वह हस्ता है बातों पर
मैं कहती हु तुम कितने अच्छे हो

63
मेरी बातों पर उसे हंसी आ जाती है
फिर देखो मेरे चेहरे पर भी रोनक आती है
उसका साथ चाहिए मुझे
और फिर देखो हर दफा मुझे उसकी आदत पड़ जाती है

64
उसकी चाहत से मोहब्बत बस यही सब चाहा है मैंने
और उसके सिवा किसी और को दिल से लगाया नहीं है मैंने
बस वह मेरे साथ रहे इसके सिवा
और मोहब्बत में कुछ चाहा नहीं है मैने

65
तू हर दफा मेरे साथ रहे वह हर समय मेरे पास रहे
वो रहे मेरे दिल में कोई चांद सितारा बनकर
हमेशा मेरी जिंदगी का उजाला रहे

66
आपसे में यह कुछ आखिरी बार लिख रही हु
उसे अपनी जान मोहब्बत बता रहा हूं
हम इसके बाद में किसी और से कुछ कह नहीं सकते
उसके बिना एक पल भी जी नहीं सकते

67
उसके बिना मुझे रहना नहीं आता
किसी और से कुछ कहना नहीं आता
वही है मेरी मोहब्बत मुझे प्यार जताना नहीं आता

68
वह मुझे हमेशा प्यार करता है
तुम मुझसे प्यार नहीं करते यह बताया करता है
तुम सिर्फ लड़ती हो मुझसे यह कहा करता है
और वह नहीं जनता मोहब्बत में लड़ाई ही होती है
और उसे मुझसे मोहब्बत है, इसीलिए हर रोज यह लड़ाई होती है

69
इश्क का आखिरी जाम पी रही हूं मैं
अब उसके बिना भी देखो जी रही हूं मैं
उसके बिना एक पल भी नहीं रह सकती थी
उसके बिना पूरी जिंदगी काट रही हूं में

70
उसका लड़ना उसको हंसना उसका रोना उसका मनाना
उसका रूठना मुझे सब कुछ याद आता है
वह मेरे साथ रहता है हमेशा तो मुझे उसका ही ख्याल आता है, वह चला जाता है जब मुझसे दूर
फिर देखो मेरे दिल में कैसा तूफान आता है

71
मुझसे कभी दूर ना जाए वह हमेशा मेरे पास रहे
और बस यही रह जाए
मैं तो सिर्फ उससे मोहब्बत करती हूं
वह मुझे छोड़ कर कभी किसी और के पास ना जाय

72
उसकी मोहब्बत में मैंने क्या नहीं किया
मैंने सब कुछ किया क्या मैंने उसे अपना नहीं किया
मैंने उसे हमेशा दिल से चाहा
क्या मैंने उसके लिए इबादत नहीं किया

73
एक उसका चेहरा मुझे याद आता है
एक वह सक्श मुझे बार-बार याद आता है
मैं हमेशा उसे याद करता हूं
और वह फिर मेरे दिल में बस जाता है

74
दूर चले जाने से कभी मोहब्बत कम नहीं होती
किसी और के आ जाने से यह चाहते कम नहीं होती
यह दूरियां तो बढ़ा देती है प्यार को
किसी और की आ जाने से
हमारी मोहब्बत में कभी कमी नहीं होती

75
मैंने उसे हमेशा चाहा है मैंने उससे हमेशा इश्क किया है
वह नहीं मानता मेरी मोहब्बत को तो क्या हुआ
मैंने तो सिर्फ और सिर्फ उससे प्यार किया है

77
वो पास रहे मैं तो बस इसी में खुश रह लेती हु
वह किसी और के साथ रहे मैं तो में अपना मन मार लेती हु
जब नहीं है उसको मोहब्बत मुझसे
तो फिर मैं खुद से दूरी बना लेती हु

78
उससे दूरियां बना लेना ही मैंने बेहतर समझा है
उसकी खुशी के लिए मैंने खुद को उससे दूर किया है
और यह प्यार व्यार अब बहुत हो गया
मैंने अब लव करना ही छोड़ दिया है

79
नहीं मैं मोहब्बत करती हूं
ना उसके सिवा किसी और को दिल में रखती हूं
एक ही बार धड़कता है यह दिल किसी के लिए
बार-बार मैं इसे परेशान नहीं करती हूं

80
अब क्या में कभी किसी और से क्या मोहब्बत कर पाऊँगी
उसके बिना जी तो लुंगी पर क्या मैं अच्छे से रह पाऊँगी
में उससे प्यार करती थी यह मैंने उसे कभी नहीं बताया
क्या मैं यह दिल में रखकर जिंदगी भर चैन से रह पाऊँगी

81
उसकी जाने के बाद तो मैंने कुछ नहीं देखा
सिर्फ सपनों में भी मैंने उसको ही देखा था
वही रहा हर पल दिल में मेरे
मैंने उसके सिवा किसी और को मुड़कर नहीं देखा

82
तुम हमेशा मुझसे प्यार करते रहो
मैंने यह तुमसे कभी नहीं कहा.
अगर तुम्हें नहीं है मोहब्बत
तो मैंने जबरदस्ती तुमसे करने को नहीं कहा
पर मैं तो तुमसे प्यार कर ही सकती हूं
मेरी मोहब्बत में कोई भी बेवफाई नहीं है
और मैं तुमसे यह आसानी से कह सकती हु

83
तुम मेरे दिल में हमेशा हस्ते रहोगे
तुम मुझसे चाहे प्यार ना करो
फिर भी तुम मेरे ख़्वाबों की ख्वाहिश रहोगे
मैंने हमेशा तुम्हें चाहा है सच्चे दिल से
तुम हमेशा मेरी जिंदगी का हिस्सा बनकर रहोगे

84
अब किसी और से कुछ ख्वाइश नहीं है
उसके सिवा मुझे किसी और से कुछ पाने की चाहत नहीं है

अगर वह है तो सब कुछ है मेरे पास
वरना फिर मेरे पास कुछ नहीं है

85
मैंने कभी उससे ज्यादा किसी को नहीं चाहा
मैंने कभी उससे ज्यादा किसी को अपना नहीं माना
सिर्फ उससे ही मोहब्बत की है मैंने
उसके सिवा किसी को अपने दिल से नहीं माना

86
यह दिल सिर्फ अब उसका है
इस पर किसी और को जोर नहीं चलता
एक वही रहता है इसमें हमेशा
उसके सिवा इसमें किसी और का नाम तक नहीं रहता

87
उसने मुझे जो खुशियां दी है
मैं उसे कभी वापस लौटा नहीं सकती
उसके एहसान है मुझ पर जो मैं कभी चुका नहीं सकती
उसने मुझे इतना कुछ दिया है कि में कभी जता नहीं सकती

88
मैं सोचती थी मैंने ही उसके लिए सब कुछ किया है
पर मैं नहीं जानती थी उसने भी मेरे लिए बहुत कुछ किया है
वह कहता नहीं है अपनी बातें दिल से
पर उसने भी मुझसे उतना ही प्यार किया है

90
उसका प्यार ही मेरी जिंदगी बन रही है
अब इसके सिवा कोई और खुशी नहीं रही है
एक जिंदगी में वही बचा है मेरी खुशी
उसके जाने के बाद फिर देखो जिंदगी में ख़ुशी ही नहीं रही है

91
अब क्या खुशी मनाना अब क्या किसी और से दिल लगाना
दिल तो कब का टूट चुका है
अब क्या और कोई बहाना बनाना
वह चला गया है अब मुझे छोड़ कर
तो फिर क्या किसी और से मोहब्बत निभाना है

92
मैं हजार बार उससे दूर जाने की बात कह सकती हु
पर मैं उससे कभी दूर जा नहीं सकती
वह सिर्फ प्यार है मेरा मैं उसे कभी भुला नहीं सकती

93
जब जब उससे दूर जाने की बात आई है
हमेशा देखो मेरे आंखों में आंसू की बाढ़ आई है
मैंने उससे कितनी मोहब्बत की है मैं बता नहीं सकती
देखो कैसे मेरी मोहब्बत मेरे पास आई है

94
उसकी तस्वीर से बातें करना अच्छा लगता है
उसे अपना दिल और जान कहना अच्छा लगता है
वह मेरे साथ रहे बस यही चाहती हु में
क्यूंकि मेरा जणू मुझे बहुत प्यारा लगता है

94
उसकी निगाहों में वह प्यार बाकी था
उसके लिए मेरा वह इंतजार बाकी था
वह हमेशा करता था मुझसे प्यार
उसके दिल में मेरे लिए जो मोहब्बत बाकि था

96
में उससे ज्यादा कुछ कह नहीं सकती
उसे अपनी जान से ज्यादा कुछ दे नहीं सकती
सब कुछ तो दे दिया है मैंने उसे
इससे ज्यादा मोहब्बत में कर नहीं सकती

97
मैंने उसकी मोहब्बत में सब कुछ किया है
हर जगह गयी हूं मैं, मैंने हर बार उसका जिक्र किया है
हर मंदिर में उसके लिए प्रार्थना की है
हर मस्जिद में उसकी सलामती के लिए दुआ किया है

98
उसके अलावा कोई मेरे साथ नहीं रहता
उसके सिवा और कोई मेरे पास नहीं रहता
एक वही रहता है मेरे दिल में
उसके सिवा कोई और ख्याल नहीं रहता

99
उसके सिवा अब कोई अपना नहीं रहा
एक वो है दिल के करीब मेरे
अब मुझे किसी पर
यकीन रहा नहीं है।।

100
मै बहुत खुश हो जाती हु
जब मै उसके साथ होती हु
हर ग़म भूल जाती हु
जब मै उससे मिलती हु

Related posts:

love shayari for gf in hindi

very romantic love shayari collection

Final Words:

तो दोस्तों ये थे कुछ बहुत ही रोमांटिक और प्यार भरी बॉयफ्रेंड के लिए लव शायरी, हम उम्मीद करते है की आपको ये सभी शायरी जरुर पसंद आई होगी.

अपने bf के साथ उनको जरुर शेयर करे और फिर देखना आप दोनों के बीच का प्यार कितना बढ़ जायेगा और वो आपसे हद से ज्यादा प्यार करने लग जायेगा.

Share this...

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.