Love Status in Hindi for Boyfriend & Girlfriend 2020 | बेस्ट लव स्टेटस | गर्लफ्रेंड, बॉयफ्रेंड के लिए लव स्टेटस

Love Status in Hindi – Hello friends in this post we are going to share the very romantic and cute love status in hindi which you can share with your girlfriend, boyfriend on whatsapp and facebook and they will really love it.

Some of the status are sad but we are sure that it will definitely touch your girlfriend or boyfriend’s heart. These are best love status to express your true love to your partner. I you really love your partner then please share it on  whatsapp and facebook. So friends without wasting anytime let’s start this post.

Best Love Status in Hindi for Boyfriend & Girlfriend 2020

बेस्ट लव स्टेटस | गर्लफ्रेंड, बॉयफ्रेंड के लिए लव स्टेटस

love status in hindi

हम ने ही सिखाया था उने बाते करना !

आज हमारे लिए ही वक्त नही है.


वादा करके वो निभाना भूल जाते हैं,
लगा कर आग फिर वो बुझाना भूल जाते हैं,
ऐसी आदत हो गयी है अब तो उस हरजाई की,
रुलाते तो हैं मगर मनाना भूल जाते हैं.


ऐ ज़िँदगी, अब तू ही रुठ जा मुझसे..

ये रुठे हुए लोग, मुझसे मनाए नहीँ जाते.


यु तो इश्क़ का कोई लोकतंत्र नहीं होता
वरना रिश्वत दे के तुझे अपना बना लेते.


Life में एक partner होना जरुरी है

वर्ना दिल की बात status पर लिखनी पड़ती है.


खामोश हूँ तो सिर्फ़ तुम्हारी खुशी के लिए

ये न सोचना की मेरा दिल दुःखता नहीं.


कितने मजबूर हैं हम प्यार के हाथों,
ना तुझे पाने की औकात…
ना तुझे खोने का हौसला.


क्यों शर्मिंदा करती हो,
हाल हमारा पूछ कर..
हाल हमारा वही है,
जो तुमने बना के रखा है.


मेरी वफ़ा की कदर ना की,
अपनी पसंद पे तो ऐतबार किया होता,
सुना है वो उसकी भी ना हुई,
मुझे छोड दिया था उसे तो अपना लिया होता.


उसकी आंखे इतनी गहरी थी की ,

तैरना तो आता था मगर डूब जाना अच्छा लगा.


उनकी दुनिया में हम जैसे हजारो हैं !

हम ही पागल है जो उसे पाकर मगरूर हो गए.


न दो इल्जाम हमें की क्यों इतना घुरते है हम तुमे!

जाकर उससे पूछो क्यों इनता हसीन बनाया तुमे.


हमारे दरमियाँ ये दूरियां ना होती,
गर कुछ मेरी मजबूरियाँ ना होती,
रहते ना यूं मेरे हाथ खाली,
गर रस्मों की ये बेड़ियाँ ना होती.


तमन्ना हो मिलने की तो,
बंद आँखों मे भी नज़र आएँगे,
महसूस करने की कोशिश तो कीजिए,
दूर होते हुए भी पास नज़र आएँगे.


क्यूँ दुनिया वाले मोहब्बत को खुदा का दर्ज़ा देते हैं,

हमने आज तक नहीं सुना कि खुदा ने बेवफाई की हो.


हमारी दास्तां उसे कहां कबूल थी,
मेरी वफायें उसके लिये फिजूल थीं,
कोई आस नहीं लेकिन कोई इतना बतादो,
मैंने चाहा उसे क्या ये मेरी भूल थी.


एक सुकून की तलाश मे जाने कितनी बेचैनियां पाल ली,

और लोग कहते है हम बडे हो गए हमने जिंदगी संभाल ली.


तुमको मिल जायेगा बेहतर मुझसे ! मुझको मिल जायेगा बेहतर तुमसे !

पर कभी कभी लगता है ऐसे…हम एक दूसरे को मिल जाते तो होता बेहतर सबसे.


फ़ासले तो बढ़ा रहे हो मगर इतना याद रखना,

मुहब्बत बार बार इंसान पर मेहरबान नहीं होती.


वो अक्सर देता है मुझे मिसाल परिंदों की,

साफ़-साफ़ नहीं कहता के मेरा शहर छोड़ दो.


मैं ख़ामोशी तेरे मन की, तू अनकहा अलफ़ाज़ मेरा,

मैं एक उलझा लम्हा, तू रूठा हालात मेरा.


दुनिया में तेरे इश्क़ का चर्चा ना करेंगे,
मर जायेंगे लेकिन तुझे रुस्वा ना करेंगे,
गुस्ताख़ निगाहों से अगर तुमको गिला है,
हम दूर से भी अब तुम्हें देखा ना करेंगे.


इश्क करते है तुमसे इसलिए खामोश है अबतक,

खुदा न करे मेरे लब खुले और तुम बर्बाद हो जाओ.


बेवफाई तो सब करते है पगली,

तु तो समजदार थी,कुछ नया कर लेती.


तुम ने जो दिल के अँधेरे में जलाया था कभी;
वो दिया आज भी सीने में जला रखा है;
देख आकर दहकते हुए ज़ख्मों की बहार;
मैंने अब तक तेरे गुलशन को सजा रखा है.


काश तुम भी हो जाओ तुम्हारी यादों की तरह,

ना वक़्त देखो, ना बहाना, बस चले आओ.


आज मुझे चोट लगी तो खून लाल ही निकला,

मैने सोचा था यह भी मेरे महबूब की तरह बदल गया होगा?


बड़ी मुस्किल से बनाया था,
अपने आपको काबिल उसके

उसने ये कहकर बिखेर दिया…
की तुमसे मोह्बत तो है पर पाने की चाहत नही हैं.


बादलों से कह दो,
जरा सोच समझ के बरसे,
अगर हमें उसकी याद आ गई,
तो मुकाबला बराबरी का होगा.


बहुत आसान है जमाने में जनम लेना,
बड़ी मुश्किल है एक उम्र तक जीवन जीना,
हम तो खामोश हैं तेरी ही खामोशी से,
तुमसे ही सीखा है हमने आंसू पीना.


दो कदम तो सब चल लेते हैं पर ,
ज़िन्दगी भर साथ कोई नहीं निभाता ,
अगर रो कर भूल जाती यादें ,
तो हस कर कोई गम न छुपाता .


एक अजीब सा मंजर नज़र आता है,
हर एक आँसूं समंदर नज़र आता हैं,
कहाँ रखूं मैं शीशे सा दिल अपना,
हर किसी के हाथ मैं पत्थर नज़र आता हैं.


वो करते हैं बात इश्क़ की,
पर इश्क़ के दर्द का उन्हें एहसास नहीं,
इश्क़ वो चाँद है जो दिखता तो है सबको,
पर उसे पाना सब के बस की बात नही.


मेरी आवारगी में कुछ दखल तुम्हारा भी है

क्यों की जब तेरी याद आती है तो घर अच्छा नही लगता.


ज़िन्दगी गुजर रही है, इम्तिहानों के दौर से,

एक जख्म भरता नहीं, दूसरा तैयार मिलता है.


याददाश्त की दवा बताने में सारी दुनिया लगी है,

तुमसे बन सके तो तुम हमें भूलने की दवा बता दो.


महकाने लाख बंद करे जमाने वाले,

शहर में कम नहीं आखों से पिलाने वाले.


मेरे हाथों में उनका हाथ आया तो महसूस हुआ.

ज़िंदगी ही हाथ लग गई हो जैसे.


तुझे कोई और भी चाहे,इस बात से दिल थोडा थोडा जलता है,

पर फखर है मुझे इस बात पे कि,हर कोई मेरी पसंद पर मरता हैँ.


न जख्म भरे,
न शराब सहारा हुई…
न वो वापस लौट न मोहब्बत दोबारा हुई.


दिलो मे खोट जुबां से प्यार करते है,

बहुत से लोग दुनिया मे बस यही व्यपार करते है.


अगर वो ज़िन्दगी में फ़कत एक बार मेरा हो जाता…

तो मैं ज़माने की किताबों से लफ़्ज़ बेवफाई ही मिटा देता.


भूल जाऊं तो जी नहीं सकता,

याद करूँ तो दम निकलता है.


बरसों सजाते रहे हम किरदार को अपने,

कुछ लोग बाजी मार ले गये यहाँ सूरत सवार कर.


दिल से हर दुआ ये ही निकलती है,

कि आप का कुछ अच्छा हो जाए.


वजह नफरतों की तलाशी जाती हैं

मोहब्बत तो बेवजह ही हो जाती हैं


कोशिश के बाद भी जो पूरी ना हो सकी..

तेरा नाम भी उन ख्वाइशों मैं हैं.


राज़ ज़ाहिर ना होने दो तो एक बात कहूँ ,

मैं धीरे- धीरे तेरे बिन मर जाऊँगी.


जिंदगी का खेल शतरंज से भी मज़ेदार निकला,

मैं हारा भी तो अपनी हीं रानी से.


सुना है..इश्क की सजा मौत होती है…

तो लो मार दो हमेँ प्यार करते है हमआपसे.


वक़्त बदला और बदली कहानी है;
संग मेरे हसीन पलों की यादें पुरानी हैं;
ना लगाओ मरहम मेरे ज़ख्मों पर;
मेरे पास उनकी बस यही एक बाकी निशानी है.


टूटे हुए पैमाने में कभी जाम नहीं आता;
इश्क़ के मरीज़ों को कभी आराम नहीं आता;
ऐ दिल तोड़ने वाले तुमने यह नहीं सोचा;
कि टूटा हुआ दिल कभी किसी के काम नहीं आता.


सब कुछ बदला बदला था जब बरसो बाद मिले;

हाथ भी न थाम सके वो इतने पराये से लगे.


मत पूछ कैसे गुज़र रही है ज़िन्दगी;

उस दौर से गुज़र रहा हूँ जो गुज़रता ही नहीं.


ऐ आईने तेरी भी हालत अजीब है मेरे दिल की तरह;

तुझे भी बदल देते हैं यह लोग तोड़ने के बाद.


मैंने रब से कहा वो चली गयी मुझे छोड़कर,

उसकी जाने क्या मज़बूरी थी;
रब ने मुझसे कहा इसमें उसका कोई कसूर नहीं,
यह कहानी मैंने लिखी ही अधूरी थी.


मुझ को तो होश नहीं तुमको खबर हो शायद;

लोग कहते हैं कि तुमने मुझे बर्बाद कर दिया.


तेरी याद में ज़रा आँखें भिगो लूँ;
उदास रात की तन्हाई में सो लूँ;
अकेले ग़म का बोझ अब संभलता नहीं;
अगर तू मिल जाये तो तुझसे लिपट कर रो लूँ.


दर्द से हम अब खेलना सीख गए;
बेवफाई के साथ अब हम जीना सीख गए;
क्या बतायें किस कदर दिल टूटा है हमारा;
मौत से पहले हम कफ़न ओढ़ कर सोना सीख गए.


हम तो सोचते थे कि लफ्ज़ ही चोट करते हैं;

मगर कुछ खामोशियों के ज़ख्म तो और भी गहरे निकले.


उदासी तुम पे बीतेगी तो तुम भी जान जाओगे कि,

कितना दर्द होता है नज़र अंदाज़ करने से.


मैखाने मैं आऊंगा मगर पिऊंगा नहीं साकी,

ये शराब मेरा गम मिटाने की औकात नही रखती.


तुम जिन्दगी में आ तो गये हो मगर ख्याल रखना,

हम जान तो दे देते हैं. मगर जाने नहीं देते.


आवारगी छोड़ दी हमने तो लोग भूलने लगे हैं;

वरना शोहरत कदम चूमती थी जब हम बदनाम हुआ करते थे.


हम तुझ से किस हवस की फ़लक जुस्तुजू करें;

दिल ही नहीं रहा है कि कुछ आरज़ू करें.


पढ़ तो लिए है मगर अब कैसे फेंक दूँ;

खुशबू तुम्हारे हाथों की इन कागज़ों में जो है.


छोटी सी ज़िन्दगी में अरमान बहुत थे;
हमदर्द कोई न था इंसान बहुत थे;
मैं अपना दर्द बताता भी तो किसे बताता;
मेरे दिल का हाल जानने वाले अनजान बहुत थे.


तन्हाई मे मुस्कुराना भी इश्क़ है,
इस बात को सब से छुपाना भी इश्क़ है,
यूँ तो रातों को नींद नही आती
पर रातों को सो कर भी जाग जाना इश्क़ है.


अब की बार मिलोगे तो खूब रुलायेंगे तुम्हे.

सुना है तुम्हे रोने के बाद सीने से लिपट जाने की आदत है.


एक वो है जो समझता नही,

और यहाँ जमाना मेरी कलम पढ़ कर दीवाना हुआ जा रहा है.


हर शख्स परिन्दोँ का हमदर्द नही होता दोस्तोँ..

बहुत बेदर्द बैठे हैँ दुनिया मे जाल बिछाने वाले.


ज़रा देखो ये दरवाज़े पर दस्तक किसनेदी है;

अगर इश्क़ हो तो कहना यहाँ दिल नही रहता.


उसकी ये मासूम अदा मुझको बेहद भाती है…

वो मुझसे नाराज़ हो तो गुस्सा सबको दिखाती है.


कहा था सबने, डूबेगी यह कश्तीl

मगर हम जानकर बैठे उसी में.


तुम रख ना सकोगे मेरा तौफ़ा संभालकर;

वरना मैं अभी दे दूं जिस्म से रूह निकाल कर.


तमाशा न बना मेरी मोहब्बत का

कुछ तो लिहाज़ कर अपने किए वादों का.


मेरे चुप रहने से नाराज़ ना हुआ करो…

कहते है टूटे हुए लोग हंमेशा ख़ामोश हुआ करते है.


कोई दुश्मनी नही ज़िन्दगी से मेरी..

बस ज़िद्द है तेरे साथ जीना है.


टूटे हुए सपने से खुली, आज सुबह फिर आँख,
सपना आज फिर चुभेगा दिन-भर.


मेरे दिल में तेरे लिए प्यार आज भी है
माना कि तुझे मेरी मोहब्बत पर शक आज भी है
नाव में बैठकर जो धोए थे हाथ तूने
पूरे तालाब में फैली मेंहदी की महक आज भी है.


उन गलियों से जब गुज़रे तो मंज़र अजीब था;
दर्द था मगर वो दिल के करीब था;
जिसे हम ढूँढ़ते थे अपनी हाथों की लकीरों में;
वो किसी दूसरे की किस्मत किसी और का नसीब था.


इतना भी गुमान न कर आपनी जीत पर ऐ बेखबर
शहर में तेरे जीत से ज्यादा चर्चे तो मेरी हार के हैं.


मेरे पास गोपीयाँ तो बहुत है,
पर मेरा मन मेरी राधा के सीवा कही लगता ही नही,


तुमसे बिछड़े तो मालुम हुवा की मौत भी कोई चीज़ हे ,

ज़िदगी तो वोह थी जो हम तेरी मेहफिल में गुजार आये.


मुझे रिश्तो की लंबी कतारोँ से मतलब नही ,

कोई दिल से हो मेरा, तो एक शख्स ही काफी है.


उस जैसा मोती पूरे समंद्र में नही है,
वो चीज़ माँग रहा हूँ जो मुक़्दर मे नही है,
किस्मत का लिखा तो मिल जाएगा मेरे ख़ुदा,
वो चीज़ अदा कर जो किस्मत में नही है.


फुर्सत किसे है ज़ख्मों को सरहाने की;
निगाहें बदल जाती हैं अपने बेगानों की;
तुम भी छोड़कर चले गए हमें;
अब तम्मना न रही किसी से दिल लगाने की.


किसी ने यूँ ही पूछ लिया हमसे कि दर्द की कीमत क्या है;
हमने हँसते हुए कहा, पता नहीं… कुछ अपने मुफ्त में दे जाते हैं.


पी है शराब हर गली की दुकान से,
दोस्ती सी हो गयी है शराब की जाम से ;
गुज़रे है हम कुछ ऐसे मुकाम से,
की आँखें भर आती है मोहब्बत के नाम से.


धडकनों को कुछ तो काबू में कर ए दिल

अभी तो पलकें झुकाई है मुस्कुराना अभी बाकी है उनका.


जरुरी है तेरे अहसास मेरे अल्फ़ाजों के लिये,

तुम बिन हर शायरी अधुरी है मेरी.


किसी शायर से कभी उसकी उदासी की वजह
पूछना…
दर्द को इतनी ख़ुशी से सुनाएगा की प्यार हो जायेगा.


जनाब मत पूछिए हद हमारी गुस्ताखियों की ,

हम आईना ज़मीं पर रखकर आसमां कुचल दिया करते है.


मेरी फितरत में नहीं अपना गम बयां करना,

अगर तेरे वजूद का हिस्सा हूँ तो महसूस कर तकलीफ मेरी.


अजीब दस्तूर है, मोहब्बत का,

रूठ कोई जाता है, टूट कोई जाता है.


कुछ रूठे हुए लम्हें कुछ टूटे हुए रिश्ते,

हर कदम पर काँच बन कर जख्म देते है.


तू मोहब्बत है मेरी इसीलिए दूर है मुझसे…

अगर जिद होती तो शाम तक बाहों में होती.


न जाने इतनी मोहब्बत कहाँ से आ गयी
उस अजनबी के लिए ,
की मेरा दिल भी उसकी खातिर अक्सर
मुझसे रूठ जाया करता हे.


रात चुप हे मगर चाँद खामोस नही ,
केसे कहु आज फिर होस नही ;
ऐसे डूबे हे उनकी यादों में की ,
हाथ में जाम हे पर पिनेका होस नही.


डूबी हैं मेरी उँगलियाँ खुद अपने लहू में;

ये काँच के टुकड़ों को उठाने के सज़ा है.


दुःख देते हो खुद और खुद ही सवाल करते हो;
तुम भी ओ सनम, कमाल करते हो;
देख कर पूछ लिया है हाल मेरा;
चलो शुक्र है कुछ तो ख्याल करते हो.


तुझे अपना बनाने की हसरत थी,
जो बस दिल में ही रह गयी;
चाहा था तुझे टूट कर हमने;
चाहत थी बस चाहत बन कर रह गयी.


कुछ लोग पसंद करने लगे हैं अल्फाज मेरे;

मतलब मोहब्बत में बरबाद और भी हुए हैं.


बिछड़ गए हैं जो उनका साथ क्या मांगू;
ज़रा सी उम्र बाकी है इस गम से निजात क्या मांगू;
वो साथ होते तो होती ज़रूरतें भी हमें;
अपने अकेले के लिए कायनात क्या मांगू.


गम इस बात का नही कि तुम बेवफा निकली,
मगर अफ़सोस ये है कि,
वो सब लोग सच निकले.


इस दिल को किसी की आहट की आस रहती है,
निगाह को किसी सूरत की प्यास रहती है,
तेरे बिना जिन्दगी में कोई कमी तो नही,
फिर भी तेरे बिना जिन्दगी उदास रहती है.


एक अरसा बीत गया..खुलकर मुस्कुराए हुए,
एक अरसा बीत गया..गीत कोई गाए हुए,
मेरी नज़रों को तेरा इन्तज़ार आज भी है,
एक अरसा बीत गया..कोई रिश्ता नया बनाए हुए.


मुझे गरुर था उसकी मोह्ब्बत पर,

वो अपनी शोहरत मे हमे भूल गया.


सोचते हैं जान अपनी उसे मुफ्त ही दे दें ,

इतने मासूम खरीदार से क्या लेना देना.


मालूम जो होता हमें अंजाम-ए-मोहब्बत;

लेते न कभी भूल के हम नाम-ए-मोहब्बत.


गम तो है हर एक को, मगर हौसला है जुदा जुदा;

कोई टूट कर बिखर गया, कोई मुस्कुरा के चल दिया.


ज़रूरी तो नहीं था हर चाहत का मतलब इश्क़ हो;

कभी कभी कुछ अनजान रिश्तों के लिए दिल बेचैन हो जाता है.


एहसास बदल जाते हैं बस और कुछ नहीं,

वरना नफरत और मोहब्बत एक ही दिल से होती है.


कितना और बदलूँ खुद को, जीने के लिए ऐ ज़िन्दगी;

मुझमें थोडा सा तो मुझको बाकी रहने दे.


जाने क्या था जाने क्या है जो मुझसे छूट रहा है,

यादें कंकर फेंक रही हैं और दिल अंदर से टूट रहा है.


बिछड़ के तुम से ज़िन्दगी सज़ा लगती है;
यह साँस भी जैसे मुझ से ख़फ़ा लगती है;
तड़प उठता हूँ दर्द के मारे मैं;
ज़ख्मो को मेरे जब तेरे शहर की हवा लगती है.


मेरी फितरत मे नही है किसी से नाराज होना,

नाराज वो होते है जिनको अपने आप पर गुरुर होता है।


ना जाने क्या कहा था डूबने वाले ने समंदर से,

कि लहरें आज तक साहिल पे अपना सर पटकती हैं.


कभी कोई अपना अनजान हो जाता है,
कभी अनजान से प्यार हो जाता है,
ये जरुरी नही कि जो ख़ुशी दे उसी से प्यार हो,
दिल तोड़ने वालो से भी प्यार हो जाता है.


आज अचानक तेरी याद ने मुझे रुला दिया,
क्या करूँ तुमने जो मुझे भुला दिया,
न करती वफ़ा न मिलती ये सज़ा,
शायद मेरी वफ़ा ने ही तुझे बेवफा बना दिया.


हमें कोई ग़म नहीं था ग़म-ए-आशिक़ी से पहले,
न थी दुश्मनी किसी से तेरी दोस्ती से पहले,
है ये मेरी बदनसीबी तेरा क्या कुसूर इसमें,
तेरे ग़म ने मार डाला मुझे ज़िन्दग़ी से पहले.


सब कुछ मिला सुकून की दौलत न मिली;
एक तुझको भूल जाने की मोहलत न मिली;
करने को बहुत काम थे अपने लिए मगर;
हमको तेरे ख्याल से कभी फुर्सत न मिली.


रोते रहे तुम भी, रोते रहे हम भी;
कहते रहे तुम भी और कहते रहे हम भी;
ना जाने इस ज़माने को हमारे इश्क़ से क्या नाराज़गी थी;
बस समझाते रहे तुम भी और समझाते रहे हम भी.


वो नाराज़ हैं हमसे कि हम कुछ लिखते नहीं;
कहाँ से लाएं लफ्ज़ जब हमको मिलते नहीं;
दर्द की ज़ुबान होती तो बता देते शायद;
वो ज़ख्म कैसे दिखाए जो दिखते नहीं.


बहुत दर्द हैं ऐ जान-ए-अदा तेरी मोहब्बत में;

कैसे कह दूँ कि तुझे वफ़ा निभानी नहीं आती.


बस यही सोच कर हर तपिश में जलता आया हूँ;

धूप कितनी भी तेज़ हो समंदर नहीं सूखा करते.


साँस थम जाती है पर जान नहीं जाती;
दर्द होता है पर आवाज़ नहीं आती;
अजीब लोग हैं इस ज़माने में ऐ दोस्त;
कोई भूल नहीं पाता और किसी को याद नहीं आती.


तूने फेसले ही फासले बढाने वाले किये थे ,

वरना कोई नहीं था, तुजसे ज्यादा करीब मेरे.


प्यार करो तो हमेशा मुस्कुरा के,
किसी को धोखा ना दो अपना बना के,
कर लो याद जब तक हम ज़िंदा है,
फिर ना कहना की चले गये दिल मे यादें बसा के.


हुआ जब इश्क़ का एहसास उन्हें;
आकर वो पास हमारे सारा दिन रोते रहे;
हम भी निकले खुदगर्ज़ इतने यारो कि;
ओढ़ कर कफ़न, आँखें बंद करके सोते रहे.


न कोई किसी से दूर होता है,
न कोई किसी के करीब होता है,
प्यार खुद चल कर आता है,
जब कोई किसी का नसीब होता है.


क़दर करलो उनकी जो तुमसे बिना मतलब की चाहत करते हैं..
दुनिया में ख्याल रखने वाले कम और तकलीफ देने वाले ज़्यादा होते है.


हुज़ूर एक हुक्म हम पे भी फ़रमाइये ,
आ जाइये खुद या फिर हमें बुलाइये.


सुना है तुम ज़िद्दी बहुत हो,

मुझे भी अपनी जिद्द बना लो.


सोचता हु हर कागज पे तेरी तारीफ करु,
फिर खयाल आया कहीँ पढ़ने वाला भी तेरा दीवाना ना हो जाए.


लोग कहते हैं किसी एक के चले जाने से जिन्दगी अधूरी नहीं होती,
लेकिन लाखों के मिल जाने से उस एक की कमी पूरी नहीं होती है.


उसकी हर एक शिकायत देती है मुहब्बत की गवाही..
अजनबी से वर्ना कौन हर बात पर तकरार करता है.


ना हीरों की तमन्ना है और ना परियों पे मरता हूँ..
वो एक “भोली” सी लडकी हे जिसे मैं मोहब्बत करता हूँ.


तू मिले या ना मिले ये तो और बात है,
मैं कोशिश भी ना करूँ, ये तो गलत बात है.


मुहब्बत में झुकना कोई अजीब बात नहीं;
चमकता सूरज भी तो ढल जाता है चाँद के लिए.


हज़ार बार ली है तुमने तलाशी मेरे दिल की,
बताओ कभी कुछ मिला है इसमें प्यार के सिवा.


ना pimple वाली के लिये,
ना dimple वाली के लिये,
ये photo है सिर्फ अपनी simple वाली के लिये.


तन्हाई मैं मुस्कुराना भी इश्क़ है,
इस बात को सब से छुपाना भी इश्क़ है.


मैं अपनी मोहब्बत में- बच्चो की तरह हूँ,
जो मेरा हैं बस मेरा है
किसी और को क्यो दुँ.


हो जा मेरी कि इतनी मोहब्बत दूँगा तुझे,
लोग हसरत करेंगे तेरे जैसा नसीब पाने के लिए.


करीब आओ ज़रा के तुम्हारे बिन जीना है मुश्किल,
दिल को तुमसे नही..
तुम्हारी हर अदा से मोहब्बत है.


सिर्फ दो ही वक़्त पर उसका साथ चाहिए,
एक तो अभी और एक हमेशा के लिये.


सौदा कुछ ऐसा किया है तेरे ख़्वाबों ने मेरी नींदों से
या तो दोनों आते हैं
या कोई नहीं आता.


अपनी मौत भी क्या मौत होगी,
यू ही मर जायेंगे एक दिन तुम पर मरते-मरते.


न जाने क्या मासूमियत है तेरे चेहरे पर…
तेरे सामने आने से ज़्यादा तुझे छुपकर देखना अच्छा लगता है.


खुद ही दे जाओगे तो बेहतर है,

वरना हम दिल चुरा भी लेते हैं.


तू मेरी धड़कन, मैं तेरी रूह, तू अगर हैं, तो मैं हूँ.


अंदाज-ऐ-प्यार तुम्हारी एक अदा है..
दूर हो हमसे तुम्हारी खता है..
दिल में बसी है एक प्यारी सी तस्वीर तुम्हारी..
जिस के नीचे ‘आई मिस यू’ लिखा है.


तेरी सांस के साथ चलती है मेरी हर धड़कन,

और तुम पूछते हो मुझे याद किया या नही.


लगता है तुम्हें नज़र में बसा लूँ ,
औरों की नजरों से तुम्हें बचा लूँ,
कहीं चूरा ना ले तुम्हें मुझसे कोई,
आ तुझे मैं अपनी धड़कन में छुपा लूँ.


दिल‬ होना चाहिए जिगर होना चाहिए,
आशिकी के लिए हुनर होना चाहिए,
नजर से नजर मिलने पर ‪‎इश्क‬ नहीं होता,
‪नजर‬ के उस पार भी एक असर होना चाहिए.


तेरी धड़कन ही ‪ज़िंदगी‬ का किस्सा है मेरा,
तू ज़िंदगी का एक अहम् हिस्सा है मेरा,
मेरी ‪‎मोहब्बत‬ तुझसे, सिर्फ़ लफ्जों की नहीं है,
तेरी रूह से रूह तक का रिश्ता है मेरा.


आपने नज़र से नज़र कब मिला दी,
हमारी ज़िन्दगी झूमकर मुस्कुरा दी,
जुबां से तो हम कुछ भी न कह सके,
पर निगाहों ने दिल की कहानी सुना दी.


रब से आपकी खुशीयां मांगते है,
दुआओं में आपकी हंसी मांगते है,
सोचते है आपसे क्या मांगे,
चलो आपसे उम्र भर की मोहब्बत मांगते है.


तुम्हारी प्यारी सी नज़र अगर इधर नहीं होती,
नशे में चूर फ़िज़ा इस कदर नहीं होती,
तुम्हारे आने तलक हम को होश रहता है,
फिर उसके बाद हमें कुछ ख़बर नहीं होती.


कई चेहरे लेकर लोग यहाँ जिया करते हैं ,
हम तो बस एक ही चेहरे से प्यार करते हैं ,
ना छुपाया करो तुम इस चेहरे को,
क्योंकि हम इसे देख के ही जिया करते हैं.


मेरी यादो मे तुम हो, या मुझ मे ही तुम हो,
मेरे खयालो मे तुम हो, या मेरा खयाल ही तुम हो,
दिल मेरा धडक के पूछे, बार बार एक ही बात,
मेरी जान मे तुम हो, या मेरी जान ही तुम हो.


प्यार मोहब्बत आशिकी..
ये बस अल्फाज थे..
मगर.. जब तुम मिले.
.तब इन अल्फाजो को मायने मिले.


तराशा है उनको बड़ी फुर्सत से,
जुल्फे जो उनकी बादल की याद दिला दे,
नज़र भर देख ले जो वोह किसी को,
नेकदिल इंसान की भी नियत बिगड़ जाए.


सिर्फ इशारों में होती महोब्बत अगर,
इन अलफाजों को खुबसूरती कौन देता?
बस पत्थर बन के रह जाता ‘ताज महल’
अगर इश्क इसे अपनी पहचान ना देता.


एक शाम आती है तुम्हारी याद लेकर,
एक शाम जाती है तुम्हारी याद देकर,
पर मुझे तो उस शाम का इंतेज़ार है,
जो आए तुम्हे अपने साथ लेकर.


अपनी मोहब्बत कि खुशबु से नुर कर दे,
जुदा न हो सकु इतना मगरुर कर दे,
मेरे दिल मे बस जाए वफ़ा तेरी ,
किसी और को ना देखु मुझे इतना मजबुर कर दे.


आंखों के रास्ते दिल में उतर कर नही देखा,
तूने मेरे सीने में अपनी यादों का घर नही देखा,
तेरे इश्क की वहशत ने पागल बना दिया है मुझे,
तेरी गलियों की खाक के सिवा मैंने कुछ नही देखा.

Final Words:

So boys and girls these were the cute and very romantic love status in hindi for girlfriend and boyfriend. We really hope that you loved our status collection. We will continue to update this article with latest and new love status for you.

Please help us by giving 1 like and don’t forget to share with your gf and bf on whatsapp and facebook. Thank you and keep reading other posts.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *