70+ गणतंत्र दिवस पर शायरी | Republic Day Shayari in Hindi

Hello, friends in this post we are going to share the best republic day Shayari in Hindi which you can share with your friends and family members on republic day.

In India, we celebrate Republic Day on the 26th of January and there is a national holiday. So friends without wasting any time let’s start this Shayari collection.

Table of Contents:

Republic Day Shayari in Hindi

गणतंत्र दिवस पर शायरी

Republic day shayari in hindi

1
नफरत की सियासत को दफन किया था
दिलो मै देशभक्ति का जज्बा लिया था
मनाते है हम गणतंत्र दिवस 26 जनवरी को
भारत ने इसी दिन अपना संविधान लिखा था।।
जय हिन्द~

2
हिंदुस्तान की आन रखी है
वीरों ने अपनी जान रखी है
जो मर मिटे देश के लिए उन
वीरों ने शरहद पर छाती तान रखी है।।
जय हिन्द~

3
हम मर जाएंगे देश के लिए
खून काम आ जाएगा
लिख देंगे लहू से हिंदुस्तान
कुर्बानियों का दौर आ जाएगा।।
जय हिन्द~

4
मनाकर 26 जनवरी को हम
उन वीरों को सलाम करते हैं
लड़ मरे थे जो भारत के लिए
उन्हे शत शत प्रणाम करते है।।
जय हिन्द~

5
जो जाए हम शरहद पर
खुशनसीब हो जाएंगे
गर मर भी गए भारत की आन मै
तो भारत के शहीद कहलाएंगे।।
जय हिन्द~

6
दिल देते है तिरंगे पर
जान भी वार देते है
हम हिन्दुस्तानी
भारत के दुश्मनों का सर काट भी देते है।।
जय हिन्द~

7
लिखा हुआ है जो इतिहास
फिर से दौहरा देंगे
उठी जो आंख दुश्मन की हमारी तरफ
रण भूमि मै फिर से लाशे बिछा देंगे।।
जय हिन्द~

8
हम सिर्फ वतन के रखवाले है
वतन को जानते है
हम हिन्दुस्तानी है
सिर्फ भारत को पहचानते है।।
जय हिन्द~

9
26 जनवरी को संविधान लिखा था
भारत ने खुद को गणतंत्र लिखा था
आजाद हो गए थे सब पूर्ण रूप से
हमने तिरंगे को अपनी जान लिखा था।।
जय हिन्द~

10
जो मै मर जाऊं तो भारत के खातिर
मुझे गर्व से कंधा देना
लिपट कर आऊ तिरंगे मै वापस
तो मुझे शहीद का सम्मान देना।।
जय हिन्द~

11
हम वही आजादी कि कहानी दौहरा देंगे
मर कर खुद को अमर बना देंगे।।
जय हिन्द~

12
जो भारत का ना हुआ
वो भारतवासी किस काम का
जो वतन पर ना मिटा
वो लहू किस काम का।।
जय हिन्द~

13
हिमालय भी झुक गया
उन शहीदों के सम्मान में
खून बहा दिया जिन्होंने
रण के मैदान में।।
जय हिन्द~

14
कुछ नशा भारत के सम्मान का है
कुछ तिरंगे की आन का है
रहते है हम सीना तान हमेशा
भारत मै लिखा आजादी के संविधान का है।।
जय हिन्द~

15
आजादी के लिए सबने अपना खून बहाया है
राखी भेजी बहनों ने युद्ध मैदानों में
मां ने अपने लाल का सर कटवाया है
तब जाकर आजादी का परचम हिन्दुस्तान में लहराया है।।
जय हिन्द~

16
बलिदानों की शौर्य अमिट कहानी है
भारत देश में ऐसी वीर जवानी है
नहीं हटे पीछे कभी कर्तव्यों से
वीरों ने वो कर दिखाया जो मन में ठानी है।।

17
लिख दिया इतिहास जो वो अच्छा था
पढ़ा सबने भारत वर्ष में
जब हर बच्चा कच्चा था
फिर भी लहू उसका भी उफना
वो भारत मां का वीर सपूत सच्चा था।।
जय हिन्द~

18
जय हिंद के नारे से धरती गूंज उठी थी
हर हर बोल महादेव,तलवारे चमक उठी थी
दुश्मन जब आया हमारी धरती पर
हर ओर देशप्रेम की ज्वाला धधक उठी थी।।
जय हिन्द~

19
तिरंगे झंडे के नीचे हिंदुस्तान दिखाई देता है
हर भारतवासी के मन में सम्मान दिखाई देता है
अशोक चक्र देता है प्रगति का संदेश
हर और प्रेम भाईचारा दिखाई देता है।।
जय हिन्द~

20
गणतंत्र दिवस मनाया जाएगा
हर वर्ष शहीदों की याद में
उनकी रूह को भी मिलेगा सुकून
वह जहां भी होंगे स्वर्ग धरती आकाश में।।
जय हिन्द~

21
हर दिन एक सा नहीं होता
हर दिन आजादी का महोत्सव नहीं होता
आता है वर्ष में एक दिन ये
जिस दिन कोई नफरत भेदभाव नहीं होता।।
जय हिन्द~

22
लाल किले से लेकर विद्यालयों तक
तिरंगा फहराया जाएगा
आजादी की खुशी में
गणतंत्र दिवस मनाया जाएगा।।
जय हिन्द~

23
हर तरफ खुशी छाई है
प्रेम और भाईचारे की बाढ़ आई है
हर कोई रंग चुका है देश भक्ति में आज
देखो गणतंत्र दिवस की पावन बेला आई है।।
जय हिन्द~

24
हमने ना कहा किसी से
वो भी कर दिखाया है
26 जनवरी गणतंत्र दिवस मना कर
आजादी का परचम लहराया है।।
जय हिन्द~

25
वतन वालो ये आजादी ना बेच देना
शहीदों ने जो दी है कुर्बानी
उनका मान ना बेच देना
रखना देश के प्रति श्रद्धा भाव हमेशा
देशवासियों की जान ना बेच देना।।
जय हिन्द~

26
किसान से लेकर जवान तक
देश भक्ति के रंग में रंग जाते हैं
जय जवान जय किसान के
नारे हर और गूंज जाते है।।
जय हिन्द~

27
आजादी जो पाई है हमने संघर्षों से
क्रांति, आंदोलन और रणभूमि से
वही सब इतिहास में लिखा जाएगा
भारत का नाम कालखंड में भी
सम्मान से लिया जाएगा।।
जय हिन्द~

28
गांधी, पटेल, और नेहरू
सबने आजादी चाही थी
था इनका योगदान भारतवर्ष में
तब जाकर भारत के अंगने में आजादी आई थी।।
जय हिन्द~

29
केवल हथियारों से नहीं जीता जाता युद्ध
यह हमने दिखलाया है
हौसलों से भरी है ऊंची उड़ान
घर में जाकर दुश्मन को मार गिराया है।।
जय हिन्द~

30
भारत अब वह नहीं रहा,वह बदल चुका है
शक्ति और साहस का परिचय बन चुका है
अगर की गद्दारी फिर से दुश्मनों ने
घर में घुसकर मारने की कला वो सीख चुका है।।
जय हिन्द~

31
जो जवानी काम ना आए वतन के
वो जवानी किस काम की
खून में अगर ना हो रवानी
तो वो मिट्टी नहीं हिंदुस्तान की।।
जय हिन्द~

32
सर पर बांधकर कफन युद्ध में चल दिया
मां ने उसका मातृभूमि की मिट्टी से तिलक कर दिया
जा बेटा रण जीत किया ना, भारत का सम्मान बचाना
यह कहकर मां ने अपने बेटे को विदा कर दिया।।
जय हिन्द~

33
हर तरफ दौर तबाही का मंजर है
दिख रही है नफरतें हर और खंजर है
भारत ही एक ऐसा देश है
जहां प्रेम भाईचारा और मंगल है।।
जय हिन्द~

34
कहानियां जब भी इतिहास में पड़ी जाएंगी
भारत की शौर्य गाथाएं सुनाई जाएगी
दिया है जो सब ने बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा
कालखंड में सबका नाम अमर हो जाएगा।।
जय हिन्द~

35
भारत के लिए एहसास दिल में है
गणतंत्र के लिए मान दिल में है
तिरंगे के लिए सम्मान दिल में है
रखते हैं हम ,और भी तरीके दुश्मन को मारने के
प्यार ही नहीं, गोली हथियार और बारूद भी दिल में है।।
जय हिन्द~

36
देश में अपनी निशानी छोड़ जाऊंगा
अपने कर्मों से अपनी छाप छोड़ जाऊंगा
मरकर भारत माता के लिए मैं
अमर शहीद वीर कहलाऊंगा।।
जय हिन्द~

37
हम ना हारे हैं कभी ना हारेंगे
हर बार दुश्मन को घर में जाकर मारंगे।।
जय हिन्द~

38
वीरों ने तिलक किया जिस मिट्टी से
उसी में मिल रहे मिट गए
अमर हो गए सदा के लिए वह वीर
जिनके सर मातृभूमि के लिए कट गए।।
जय हिन्द~

39
सबकी अपनी अलग पहचान होती है
सबके लिए भारत के मन में आन होती है
हर भारतवासी 100 से लड़ सकता है
मुश्किल परिस्थिति में भारत की एकजुट पहचान होती है।।
जय हिन्द~

40
हमेशा मरो वतन पर तो नाम होगा
मोहब्बत करोगे वतन से
तो दिल में हिंदुस्तान होगा
और जो मर गए भारत के लिए
तो शहीदों में नाम होगा।।
जय हिन्द~

41
हमने भी लिखा है इतिहास पुराना
मंगल पांडे, भगत सिंह, झांसी की रानी अब्दुल्ला दीवाना
मिट गए यह भारत मां के लिए
तभी इतिहास में इनका नाम वीर शिरोमणि कहलाना।।
जय हिन्द~

42
आजादी आसानी से नहीं मिली
दशकों से संघर्ष किया है
तब जाकर भारत के वीरों ने
भारत मां के कर्ज का फर्ज अदा किया है।।
जय हिन्द~

43
जिस मिट्टी में जन्म लिया उससे गद्दारी ना करना
मर जाना पर देश की सौदेबाजी ना करना
रखना सर हमेशा अपना ऊंचा
भारत मां के साथ कभी दगाबाजी ना करना।।
जय हिन्द~

44
हम ने ही लिखा है, हम ने ही सहा है
आजादी के लिए संघर्ष भी किया है
जो नहीं करते मान इसका
उनसे पूछो जिन्होंने महीनों तक पानी नहीं पिया है।।
जय हिन्द~

45
अपने हिस्से की कहानियां लिखी जा चुकी हैं
हर वीर की गाथाएं सुनी जा चुकी हैं
महाराणा प्रताप से लेकर वीर शिवाजी तक
सबकी शौर्य गाथाए पढ़ी जा चुकी है।।
जय हिन्द~

46
26 जनवरी के साथ ही
संविधान दिवस भी मनाया जाता है
हर वर्ष पूरे भारत में
गणतंत्र दिवस भी मनाया जाता है।।
जय हिन्द~

47
इतनी आसानी से नहीं देंगे हम उनको कश्मीर
हमारे हिस्से का खून भी उसमें शामिल है
जो ताज है भारत माता के सर का
इतिहास में लिखी जा चुकी कहानी है।।
जय हिन्द~

48
हम जिए हम मरे इस वतन के लिए
आजादी के दीवाने लड़े
बांध सर पर कफन, भारत मां के लिए।।
जय हिन्द~

49
गंदी सियासत से देश को मत बांटो
जाति धर्म पर दंगे मत बांटो
रहो हमेशा एकजुट होकर
राजनीति के लिए धर्म को मत बांटो।।
जय हिन्द~

50
हर वर्ष मनाया जाएगा
हर साल यह दिन आएगा
हम मनाएंगे इसी तरह धूमधाम से
गणतंत्र दिवस पर सब को शांति का पैगाम जाएगा।।
जय हिन्द~

51.
सभी ने लिखा है आजादी को
अपने अपने शब्दों में
पर पाया है जिसने आजादी को
रणभूमि के संघर्षों में
वही विजय पताका है
भारत के रण शेरो मै।।
जय हिन्द~

52
हिंदुस्तान से अच्छा कोई वतन नहीं है
देश से अच्छा कोई संगम नहीं है
रहते हैं यहां सब मिलकर
प्रेम भाईचारा जैसा कोई और दूसरा देश नहीं है।।
जय हिन्द~

53
संघर्ष की जीत हुई, आजादी सबने पाईं थी
बहुत सालों के बाद भारत में खुशियां आई थी
सब ने मनाया था मिलकर गणतंत्र दिवस
यह पावन पर्व की बेला उत्सव के रूप में आई थी।।
जय हिन्द~

54
नहीं जाए देश को छोड़कर कहीं
यही दम निकल जाए
मेरे खून का हर एक कतरा
भारत में इंकलाब लेकर आए।।
जय हिन्द~

55
भारत से है पहचान मेरी
वीरों की धरती से शान मेरी
मिट जाऊं जो मैं वतन पर
ऐसे जिंदगी हो कुर्बान मेरी।।
जय हिन्द~

56
इतिहास वही दोहराएंगे
सम्मान वही करवाएंगे
शीश नहीं झुकेगा कभी
हम युद्ध मैदानों में शीश कटाएंगे।।
जय हिन्द~

57
हम भी जाएंगे लड़ने शरहद पर
सिपाही बन जाएंगे
हम रहे या ना रहे
देश को जरूर बचाएंगे।।
जय हिन्द~

58
जो काम ना आए वतन के
वो जवानी किस काम की
खून ना खोला दुश्मन के आने पर
वो हिंदुस्तानी मिट्टी किस काम की
जय हिन्द~

59
वतन की मिट्टी ने इंतजार किया है
वीर शहीदों का सम्मान किया है
हर युग में जन्म लेता है योद्धा
मातृभूमि ने उसका सत्कार किया है।।
जय हिन्द~

60
ना झुकेंगे कभी ना हिम्मत हारेंगे
भारत के वीर लड़ने से कभी ना पीछे भागंगे
रहेंगे हर पल सीना तान
भारत के दुश्मन के पीछे पड़ कर मारेंगे।।
जय हिन्द~

61
भारतवासी हैं हम
हिंदुस्तान हमारा है
मर जाएं हम इसके लिए
यह प्यारा वतन हमारा है।।
जय हिन्द~

62
आजादी को जब भी लिखा जाएगा
भारत का नाम सबसे ऊपर आएगा
चांद तारे भी देंगे गवाही
इतिहास भी अपना सर झुकाएगा।।
जय हिन्द~

63
गणतंत्र दिवस पर शपथ लेते भारत की आन की
करेंगे सदैव रक्षा हम इस के सम्मान की।।
Happy republic day~

64
आजादी का जश्न बड़ी धूमधाम से मनाते हैं
हम शम्मा ए वतन के परिंदे हैं
दिलो जान से प्यार लुटाते हैं
हर वर्ष हम गणतंत्र दिवस मनाते हैं।।
Happy republic day~

65
हमने भी लिखा है तिरंगे को मान सदा
जब तक रहेगा ऊंचा ये
रहेगा भारत का सम्मान सदा
Happy republic day~

66
हर तरफ अमन शांति है
भाईचारे का प्रसार है
यह मेरा वतन हिंदुस्तान है
देखो हर तरफ खुशहाली का द्वार है।।
Happy republic day~

67
नदियों के संगम से लेकर हिमालय तक
हर और भारत की बढ़ती पहचान है
विदेशों ने भी माना है आज
भारत राष्ट्र की सबसे बड़ी पहचान है।।
Happy republic day~

68
झंडा ऊंचा रहे हमारा
जय हिंद रहे नारा हमारा
जन गण मन हम गाते रहे
हिंदुस्तान रहे सदैव हमारा।।
Happy republic day~

69
हर तरफ खुशियों का दौर है
हर्ष उल्लास छाया हर ओर है
हवाएं भी दे रही है पैगाम आज
यह भारतवर्ष की आजादी का दौर है
Happy republic day~

70
हर तरफ है नफरत का शोर
फिर भी भारत में है भाईचारे का दौर
कुछ लोग ही फैलाते हैं गंदगी धर्म के नाम पर
वरना भारत रहा है हमेशा से सिरमौर।।
Happy republic day~

71
हमने भी लिख दी थी कुर्बानी वतन के नाम
सब कुछ कर दिया था अपना मातृभूमि के नाम
तभी मना पा रहे हैं हम आजादी का उत्सव
आज हम करते हैं उन वीर शहीदों को सलाम।।
Happy republic day~

72
भारतीयों की पहचान है तिरंगा
हम सबकी जान है तिरंगा
रहते हैं हम सब जिसकी एकता की छांव में
वो भारत का सम्मान है तिरंगा।।
Happy republic day~

Final Words

So friends these were the best republic day shayari in hindi, If you loved all these shayari then please give this post 1 like and also share with your friends and family members.

If you have any other Shayari then please share with us in the comment section below. Meanwhile please read our other posts. Thank you.

Please Share:

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.