Sad Status in Hindi For Boys & Girls 2021 | वैरी सैड स्टेटस | गर्लफ्रेंड, बॉयफ्रेंड के लिए सैड स्टेटस

Sad Status in Hindi – Hello friends in this post we are going to share the best and very sad status in hindi for whatsapp and facebook. Sometimes in life you feel very sad and depressed also in love relationship we feel the same way.

So these sad status collection are best to share on whatsapp and facebook with your friends, boyfriend and girlfriend so that they can understand your feelings and emotions.

We were asked by one of our users to please do a post on this. So today we are sharing the very best and heart touching sad status with you. So let’s start reading.

Very Sad Status in Hindi For Boys & Girls 2021

वैरी सैड स्टेटस | गर्लफ्रेंड, बॉयफ्रेंड के लिए सैड स्टेटस

sad status in hindi

1
दिल की बात किसी से ना कहा करो
यहां लोग अक्सर सौदेबाजी पर उतर आते है।

2
उसको भुलाना आसान नहीं था मेरे लिए
पर जब वो याद ही नहीं करते
तो हम भी उनसे दूर हो गए

3
एक अजनबी को अपना सब कुछ दे दिया था मैने
पर उस उसकी कदर करना ही नहीं आया।।

4
ये नमक का शहर है पगले
यहां आने जख्म ना दिखाया कर
लोग अक्सर सौदेबाजी पर उतर आते है।

5
उसके बिना जिंदा तो हूं मै
पर अब मेरे अन्दर कुछ बाकी ना रहा
जो प्यार था वो भी चला गया उसके साथ ही।।

6
नहीं मिला करता अब मै किसी से
ज्यादा प्यार देने से लोग अक्सर उसकी
कदर करना भूल जाते है।।

7
मैने जिसे अपनी जिंदगी के रूप में देख था
वो तो मेरा कुछ था ही नहीं
मै तो कोई नहीं लगता था उसका
वो तो मेरा प्यार था ही नहीं।।

8
मन ही नहीं लगता अब मेरा
जिंदगी से जैसे नाता टूट गया हो
किसी की फिक्र नहीं है अब
मै अकेला रहना ही पसंद करता हूं।।

9
इस अकेलेपन ने मुझे इतना सिखाया है
जब रिश्ते बोझ बन जाते है
तो अपने ही उन्हें गिरा देते है।।

10
पेड़ से टूटी हुई दिखी मुझे एक पत्ती
ओर सुख गई
मै भी टूट गया हूं उसी की तरह
ओर मै चुका हूं अब अन्दर से।।

11
अब किसी के आने जाने से फर्क नहीं पड़ता
मै अब जिंदा तो हूं
मगर जिंदा लाश बन चुका हूं।।

12
कभी कभी उसके किए हुए वादे याद आते है
वो क्यों नहीं थी मेरे पास
उसके धोके याद आते है।।

13
उसका इतना प्यार दिया था मैने
अपनी जान से ज्यादा चाहा था
फिर भी उसने जाने से पहले
मेरे बारे मै एक पल तक नहीं सोचा।।

14
अब ये दर्द अच्छा लगता है
कम से कम उसकी तरह झूठ तो नहीं बोलता।।

15
एक दिन मर जाऊंगा मै भी
मुझे अब इस दुनिया मै नहीं रहना
लोग कहते है बुरा हूं मै
पर उनकी तरह धोकेबाज नहीं हूं।।

16
कुछ नहीं चाहिए था मुझे उसके सिवा
ओर खुदा ने उसे ही मुझसे छीन लिया।।

17
जिंदगी कुछ इस कदर चल रही है
मै जिंदा हूं आज भी उसके बग़ैर।।

18
आज पता चला मुर्शीद
कसमे खाने से कोई मरा नहीं करता
वरना वो आज किसी ओर के साथ
खुश नहीं होती।।

19
आज वो भी चली गई मुझे छोड़कर
जिसे मै अपनी जान कहता था
चलो अच्छा हुआ
अब किसी की फिक्र नहीं।।

20
मेरी जिंदगी तो बर्बाद हो चुकी है अब
मै किसी को क्या प्यार कर पाऊंगा
लोग क्या कहते है मुझे अब फर्क नहीं पड़ता
मै अब अकेले रहना पसंद करता हूं।।

21
लोग कहते है अकेले रहोगे तो मर जाओगे
अब उन्हें कौन बताए
इस अकेलेपन मै ही मजा आने लगा है।।

22
सफर मेरा कुछ इस कदर चल रहा है
उसके बिना भी आज मुझे
अच्छा लग रहा है।।

23
सब कुछ चला गया उसके साथ ही मेरा
वो एक इन्सान मेरे वक्त को कितना धीमा कर गया।।

24
जिंदगी मै कुछ लोग ऐसे मिल जाते है
जिन्हे हम अपनी जान से ज्यादा प्यार करने लगते है
फिर वो ही लोग हमे छोड़कर चले जाते है।।

25
सब कुछ किया था मैने उसके लिए
ओर उसने ये कहकर मेरा दिल तोड़ दिया
मैने तो नहीं कहा था मेरे लिए ये सब करो।।

26
सुनो! अब तुम मर भी जाओ
तो मुझे फर्क नहीं पड़ता
क्युकी अब मै तुमसे प्यार नहीं करता।।

27
जिंदगी का सफर एक मंजिल तक जाकर रुक जाता है
पर मेरी तो मंजिल ही वहीं थी
अब जब वो चली गई तो मेरे पास कुछ बाकी ना रहा।।

28
मोहब्बत में अगर दर्द नहीं मिला तो वो मोहब्बत किस काम की….दर्द होगा तभी तो जीने में मजा आयेगा हाथ में जाम होगा दिल मै उसकी यादे होगी पर वो साथ नहीं होगी।।

29
जब वो किसी ओर की हो जाएगी एक दिन
तो वो मेरे लिए जीते जी मौत होगी।।

30
खेर छोड़ो अब कहने से क्या फायदा
जब तुम किसी ओर के हो गए।।

31
मेरे जाने के बाद उसे मेरी याद आएगी
ऐसा मै सोचा करता था
पर मै गलत था
उसने तो मेरा हाल तक ना पूछा।।

32
कभी कभी लगता है जिंदगी बहुत दर्द दे रही है
क्यों ना मै उसको अब खतम कर दू
मेरे पास कोई नहीं है
तो मै क्यों ना इस दुनिया को छोड़ दू।।

33
एक वक्त ऐसा था जब कोई नहीं था मेरे पास
हर वक्त दिल मै बुरे ख्याल आते थे
मन किया खुदकुशी कर लू
फिर ख्याल आया मां बहुत रोएगी।।

34
मैने जिसके लिए सबसे बात करना बंद कर दिया
आज वो ही मुझसे बात नही करता।।

35
उसके लिए सबको छोड़ दिया था मैने
ओर उसने मेरे प्यार को समझा तक नहीं
कोन हो! ये कहकर सारे रिश्ते भुला दिए।।

36
सुनो! अब कभी जिंदगी मै दुबारा मत मिलना
शायद मै तुम्हे अब माफ ना कर पाऊं
ओर मेरे हाथ से कुछ गलत हो जाए।।

37
सब दूर रहे तो ही अच्छा है
लोगो से अब नफरत होने लगी है मुझे।।

38
सबको नजरो मै बुरा बन गया मै
सबने मुझे ठुकरा दिया
जिसको माना था अपनी जान
उसने ही आज धोका दिया।।

39
मंजर इश्क का ये भी देखना बाकी था
हमने आज उसे किसी ओर के साथ देख लिया।।

40
एक हंसी के पीछे लाखो गम छुपा लेता हूं
अब मै भी उसके बगैर रह लेता हूं।।

41
तुम्हारे जाने के बाद पागल हो गया था मै
मुझे समझ ही नहीं आता था क्या करू
पर वक्त सब भुला देता है
देखो मै आज तुम्हारे बिना भी खुश हूं।

42
आज भी वो मुलाकात याद आती है
जब हम दोनों पहली बार मिले थे
काश हम दोनों कभी मिले ही ना होते।।

43
क्यों आए हो तुम मेरी जिंदगी मै
जब तुम्हे जाना ही था
मुझे भी अब कोई फर्क नहीं पड़ता तुमसे।।

44
मैने सब कुछ किया था तुम्हारे लिए
पर तुमने सिर्फ मुझे दर्द दिया है।।

45
अब तो आंसू भी नहीं आते मेरे
वो भी तंग आ चुके है मेरे दर्द से।।

46
मेरे बाद वो भी कभी खुश नहीं रह सकता
मै भी उसे मरने की बद्दुआ देता हूं मुर्शीद।।

47
सफर कुछ इस तरह ही चल रहा है
उसके बिना आज अच्छा लग रहा है
कभी जिसे जान कहा करता था
आज उसके बिना जीना पड़ रहा है ।

48
अपनी जिंदगी माना था मैने उसे
पर वो तो किसी ओर की किस्मत मै लिखी थी
शायद मेरे हिस्से मै वो थी ही नहीं।।

49
अब क्या किसी से शिकायत करनी
जब अपना ही अपना ना रहा
जब आंख का आंसू भी
दूसरे का हो गया।।

50
हर शाम अब उदास बीत जाती है उसकी याद मै
पर वो पहले के तरह मेरे गले लगने नहीं आता।।

51
कहां तक दुख देगा मुझे देना वाला भी
मै भी अब उसे याद नहीं करता
जो मेरे दर्द की वजह थी
मै भी उसे याद नहीं करता।।

52
कैसे भुला दू मै उसको
जब मैने उसे अपनी जिंदगी माना था
वो मेरी हर खुशी थी
मैने उसे अपनी जान माना था।।

53
अब जब वो मेरा रहा ही नहीं
तो उससे शिकायत केसी।।

54
तुम अब आजाद हो मेरे तरफ से
तुम कुछ भी कर सकती हो
अपनी जिंदगी अपने हिसाब से जी सकती हो।।

55
आज दिल पर पत्थर रखकर हमने भी कह दिया
की हम तुमसे अब मोहब्बत नहीं करते।।

56
जो एक शक्श समझता था मुझे
आज वो भी मुझसे दूर चला गया।।

57
अब केसे रह पाऊंगा मै उसके बिना
हर शाम मुझे उसकी याद आती है
उसके बिना ये जिन्दगी केसे कट रही है
मुझे उसकी बहुत याद आती है।।

58
जाने वाले तो चले जाते है
पीछे सिर्फ यादे रह जाती है
जो हमे बहुत तकलीफ़ देती है।।

59
अब किससे कहूंगा मै अपने दिल की बात
वो तो रहा नहीं जो मेरे दिल का हाल समझता था।।

60
रात मै अब अकेला ही रो लिया करता हूं मै
क्युकी लोगो तो आजकल
आंसुओ का भू सौदा करते है।।

61
अब क्या बर्बाद होगी जिंदगी
मै तो कब का उसे खुद बर्बाद कर चुका हूं।।

62
याद तो उसे भी आती होगी ना मेरी
आखिर उससे मेरे दिल का रिश्ता था
वो भी रोती होगी ना मेरे लिए
आखिर वो भी मुझसे प्यार करती थी।।

63
अब मै क्या कहूं किसी से अपने दिल का हाल
मै तो अब चुप ही रहता हूं
पता नहीं पर अब तुमसे नफरत हो गई है।।

64
आजकल मुझे चुप रहना पसंद है
मै अब लोगो से बात नहीं करता
अकेला ही रहने लगा हूं अब
मै किसी से मुलाकात नहीं करता।।

64
सफर कुछ ऐसा भी था उसके साथ
हम एक दूसरे का हाथ थामकर चलते थे
पर आज हम दोनों एक दूसरे के बिना चलते है ।

65
सुनो! तुम मुझे इतना याद क्यों आते हो
जब तुम मेरे कुछ लगते ही नहीं थे।।

66
शायद किसी गलत इन्सान पर भरोसा कर लिया मैने
नहीं था पहले मुझे कभी इतना दर्द नहीं हुआ था।।

67
सब लोग चले जाते है मेरी जिंदगी से
शायद मै ही अब सबको बुरा लगता हूं
पर जैसा भी हूं आज मै उसके बिना बहुत अकेला हु।।

68
कभी तो आ जाया करो तुम मिलने मुझसे
क्या तुम्हे मेरी याद नहीं आती।।

69
मुझसे बिछड़कर खुश है वो आज
तो उसे खुश ही रहने दो
मै भी अब उसे तंग नहीं करता।।

70
सुनो! क्या वो भी तुम्हे इतना ही प्यार करता है
जितना मै किया करता था
या फिर तुम उसकी शक्ल कर फिदा हो गई।।

71
दिल जब तुमने तोड़ दिया मेरा
तो खुदा करे तुम्हे भी कभी
सच्ची मोहब्बत नसीब ना हो।।

72
कुछ पल दर्द मै रहकर
अगर जिंदगी गुजर रही है
तो तुम्हारी वजह से
काश तुम मेरी जिंदगी मै आए ही ना होते।।

73
उसके साथ तो वक्त का पता ही नहीं चलता था
अब तो हर लम्हा एक साल की तरह लगता है।।

74
आज उसकी सगाई है किसी ओर से
आज वो भी किसी ओर की अमानत हो जाएगी।।

75
अपने दर्द को लेकर कहा जाऊंगा मै
अब तो किसी से कोई हमदर्दी नहीं रही
अकेला ही अच्छा हूं मै
अब किसी से मोहब्बत नहीं रही।।

76
कुछ लोग मिल गए थे मुझे
उसका हाल बता रहे थे
सुना है वो भी खुश नहीं रहती
आजकल मेरे बग़ैर।।

77
मै क्यों रोता हूं उसके बिना
अगर मुझे उससे प्यार नहीं था
मैने कितना रोका था उसे
क्या उसे मुझ पर ऐतबार नहीं था।।

78
आज जब कभी पीछे मुड़कर देखता हूं
तो लगता है मै कही खो गया हूं
जो एक हंसता खेलता लड़का था
वो आज बर्बाद हो गाय।।

79
आज जिन्दगी के उस मुकाम पर आ चुका हूं
जहां अब मुझे किसी से फर्क नहीं पड़ता।।

80
सब कुछ है मेरे पास इज्जत दौलत सब कुछ
पर आज भी दिल मै दर्द बाकी है
सब कुछ पाकर भी मै उसे हार गया
उसके बिना ये सब कुछ नहीं है मेरे लिए।।

81
याद आती है उसकी बहुत मुझे
पर दिल को ये कहकर समझा लेता हूं
की मुझे उससे मोहब्बत ही नहीं थी।।

82
उसे तो पता भी नहीं होगा
मै यहां केसे जी रहा हूं उसके बगैर
जब जिंदगी ही चली गई मेरी
तो मर रहा हूं मै उसके बगैर।।

83
कुछ तो हुआ होगा उसके साथ
उसकी कुछ तो मजबूरी रही होगी
वरना वो मुझे इस कदर छोड़कर कभी नहीं जाती।।

84
आज जब वो किसी ओर की हो गई
तो लगा की वो मेरे किए कितनी अनमोल थी।।

85
ये शराब पीकर अपनी जिंदगी को बर्बाद कर रहा हूं मै
उसके बिना नशे मै दिन रात कर रहा हूं मै
रो भी लेता हूं कभी कभी
आजकल उसकी तस्वीर से बात कर रहा हूं मै।।

86
सफर कुछ इस तरह हमारा चल रहा है
हम तो उनको कब का भूल चुके है
पर उनका साया हमारे साथ चल रहा है।।

87
जब तुम्हे मुझसे प्यार नहीं था
तो पहले ही बता देती
कम से कम आज हम
इस तरह बर्बाद तो ना होते।।

88
धीरे धीरे हम करीब आ रहे थे
पर शायद किस्मत को हमारा मिलना
मंजूर नहीं था।।

89
अब कहां जिंदगी रही हमारे पास
हम तो मौत का इंतज़ार करते है
बस तुम्हारी याद मै
दिन रात मरा करते है।।

90
आज बारिश हुई थी मेरे शहर मै
शायद फिर कोई रोया होगा
पर वो तुम नहीं हो सकती
क्युकी तुम्हे मुझसे मोहब्बत नहीं थी।।

91
अब कहां रहता हूं मै मुझे तो खुद खबर नहीं है
लोगो कहते है मै आजकल पागल हो गया हूं
हा! शायद हो गाय हूं उसने मुझे छोड़ जो दिया।।

92
अब हम भी तुम्हारे बग़ैर जिंदगी गुजार लेंगे
तुम अगर नहीं रहोगी
तभी भी अपनी तन्हा रात काट लेंगे।।

93
आज से जब भी मोहब्बत को कभी लिखूंगा
तो मै उसे बेवफा है लिखूंगा।।

94
दर्द तो आज है कल नहीं होगा
वक्त के साथ सब ठीक हो जाएगा
पर कुछ घाव वक्त के साथ नासूर बन जाते है।।

95
जाते वक्त मैने भी उसकी आंखे पढ़ी थी
वो भी मुझसे दूर जाना नहीं चाहती थी।।

96
अगर उसने मुड़कर देख लिया हिता था एक बार
मै उसे उस दिन फिर जाने नहीं देता।।

97
उससे कह तो दिया तुम चली जाओ
मुझे फर्क नहीं पड़ता
पर केसे बताऊं उसके बगैर
मेरा अब जी नहीं लगता।।

98
आज उसे खुद से दूर कर दिया मैने
हां अब से उसे भुला दिया मैने।।

100
आज आंखो मै फिर आंसू आ गए
जब वो मुझे याद आई
उस दिन की सारी बात
मुझे आज फिर से याद आई।।

101
जब वो गई थी मैने उसे रोका था
पर उसने कहां मै तुम्हारे साथ नहीं रह सकती
मेरा दम घुट रहा है अब
हमने भी उनका हाथ फिर हमेशा के लिए छोड़ दिया।।

102
उससे दूर जाना आसान नहीं था मेरे लिए
खेर छोड़ो अब कोई फर्क नहीं पड़ता।।

103
सब कुछ समझ चुका हूं मै अब
मुझे अब किसी की जरूरत नहीं है
वो ही नहीं रही अब मेरी
तो मुझे अब किसी सहारे की
जरूरत नहीं है।।

104
उसकी याद जब भी आती है रात को
मेरा सिरहाना अक्सर भीग जाया करता है।।

105
दिल वीरान है आज फिर उसकी याद आई है
जिंदगी मेरी फिर दर्द मै छाई है
उसके बिना कोई नहीं है मेरा
वो आज फिर से मेरे जहन मै आई है।।

106
मै अब तुमसे प्यार नहीं करती
मै तो किसी ओर से प्यार करती हूं
ये कहकर उसने आज मेरा दिल ही तोड़ दिया।।

107
इस मतलबी दुनिया ओर मतलबी लोगो से
मेरा मन भर गया है अब
कोई किसी का सगा नहीं होता
पता चला गया है अब।।

108
उसने तो कहा था मुझसे वो चली जाएगी
पता नहीं मै ही क्यों
उसके पीछे पड़ा हुआ था ।

109
आज सोचता हूं अगर उसे रोक लेता
तो मेरी जिंदगी यूं बर्बाद ना होती।।

110
खुद को मैने खुद ही बर्बाद किया है
वरना किसी की हिम्मत नहीं थी
मुझे रुलाने की।।

111
अब मेरी जिंदगी का हाल कुछ इस तरह हो गया है
लोग कहते है मुझे पागल
मेरा उनसे इस कदर रिश्ता हो गया है।।

112
जिंदगी अब ओर कितना दर्द देगी मुझे
क्या अब मार ही देगी मुझे
वो तो चली गई अब मुझे छोड़कर
क्या तू भी छोड़ देगी मुझे।।

113
बारिश मै रो लिया करता हूं मै अब
क्युकी कोई मेरा नहीं रहा अब
किसके कंधे पर सर रखकर रोऊंगा
कोई हमसफर नहीं रहा अब।।

114
सुनो! मै भी अब जा रहा हूं तुमसे दूर
तुम अब अपनी जिंदगी मै खुश रहना।।

115
मेरे बाद मुझ पर एक एहसान करना
मेरे जाने के बाद भी तुम मुझे
याद रखना।।

116
जब हर तरफ से दर्द मिले
जब हमे कोई अपना ना मिले
जब हर उम्मीद टूटकर बिखर जाए
जब किसी का साथ ना मिले
आज मै उसी मोड़ पर खड़ा हूं
तुम्हारे जाने के बाद।।

117
सोचता हूं आज भी
वो कभी तो मेरे पास आएगी
ओर मेरे गले से लग जाएगी।।

118
जब जब भी उसकी याद आई है
उसकी कसम मै बहुत रोया हूं।।

119
सुनो! मै आज भी तुमसे उतना ही प्यार करता हूं
जितना पहले किया करता था
आज भी तुम्हारी खुशी के लिए कुछ भी कर सकता हूं।।

120
बहुत सी यादें ओर दिल मै कुछ दर्द लेकर
आज मै अपनी मंजिल की ओर अकेला बढ़ चला हूं।।

121
मैने सोचा नहीं था कि एक वक्त ऐसा भी आएगा
हम दोनों एक दूसरे के बग़ैर खुश रह लेंगे
जो कभी साथ जीने मरने की कसमें खाया करते थे।।

122
अब कहां रहता है वो मेरे पास
सुना है उसे मुझसे अच्छा कोई मिल गया।।

123
तुम्हारी खुशी ही चाही थी मैने तो
अगर तुम मेरे बिना खुश हो
तो तुम खुश ही रहो।।

124
हर पल जब तुम्हारी याद आएगी
मै केसे रह पाऊंगा
जब मुझे जिंदगी इस कदर सताएगी।।

125
कुछ लोग ऐसे थे जिंदगी मै
जो जिंदगी ही बन गए थे
पर आज वो साथ ना रहे।।

126
तुम तो चले गए! खेर छोड़ो अच्छा ही किया
आज नहीं तो कल चले जाते
पर सुनो! अपनी इन यादों को भी साथ ले जाओ।।

127
दिल जब उसने तोड़ा है मेरा
तो मुझे क्या खबर होगी उसकी
मै तो उसके बिना ही अब खुश रहता हु।।

128
आज पता चल गया
किसी के दूर जाने से
कोई मरा नहीं करता।।

129
प्यार तो कुछ होता है नहीं है
सिर्फ दर्द ओर बर्बादी के सिवा।।

130
पता नहीं मुझे क्या हो गया है
जिस चहरे को मै देखा करता था
आज मुझे उससे बहुत नफरत हो गई है।।

131
कुछ लोगो का दूर जाना
मुझे इतना दर्द दे गया
की मुझे जिंदगी से ही
बेदखल कर गया ।

132
कुछ तो रहम कर ले जिन्दगी
हम कोनसा रोज रोज यहां आते है
कभी तो हमे भी खुशियां मानने को मौका दे।।

133
तुम आखिरी सांस तक याद आओगे
क्युकी हम तुम्हे अपनी जिंदगी बना चुके थे ।

134
यादें बहुत है मेरे अंदर
पर यकीन मानो अब मै
इजहार नहीं किया करती।।

135
हम तो अपनी जिंदगी की हर सांस
तुम्हारे नाम कर चुके थे
फिर तुम क्यों यूं
बीच सफर मै साथ छोड़ गई।।

136
अब दर्द क्या बताऊं मै तुम्हे
हा तुम्हारे बग़ैर आजकल
बहुत रोता हूं मै।।

137
जो लड़का कभी किसी की नहीं सुनता था
वो तुम्हारी हर बात मानता है
जो किसी के लिए नहीं सोचता था
वो तुम्हारे बारे मै सोचता है
पहली बार रोया था वो जब तुम उसे छोड़कर गई थी।।

138
कभी कभी लगता है
मै बेवजह है जी रहा हूं
मेरे होने ओर ना होने से
किसी को कुछ फर्क नहीं पड़ता।।

139
जब हर तरफ से सिर्फ दर्द मिले
तो इन्सान अन्दर से मर जाता है ।

140
उसे इतना प्यार करने के बाद भी मुझे क्या मिला
सिर्फ मुझे तो धोका ही मिला
ओर बेशुमार दर्द।।

141
अब भला क्या हो पाएगा जिंदगी का
मै तो अब का मर चुका हू।।

142
जिसने भी दिया दर्द ही दिया
मुझे कोई अपना
आज तक मिला ही नहीं।।

143
अब नहीं रहता मै किसी के इंतज़ार मै
क्युकी जाने वाले लौटकर कभी नहीं आते।।

144
अच्छा हुआ आज ही चला गया
हम भी किसी को जबरदस्ती
अब दिल मै रखना नहीं चाहते।।

145
अब क्या मिल जाएगा मुझे
उसे बेवफा कहकर
मै अपनी प्यार को
बदनाम नहीं करना चाहता।।

146
तुमने जो किया अच्छा किया
खेर तुम खुश रहना
अपनी जिंदगी में
आज भी रब से यही दुआ करते है।।

147
इतने कॉल ओर मैसेज करने के बाद भी
उसने मेरा जवाब नहीं दिया
भगवान करे अब मै उसे कभी ना मिले।।

148
खेर छोड़ो अब तुम्हे मेरे रोने से भी फर्क नहीं पड़ता
तुम्हे तो मेरा प्यार भी मजाक लगता था।।

149
जिंदगी मै कभी ना मिलूंगा मै तुम्हे
मेरे मरने पर भी तुम कभी ना आना मेरे पास।।

150
सही ही कहा करते थे लोग
मुझे इन्सान की परख करना नहीं आता
नहीं तो आज मै इतना दुखी ना हुआ होता।।

151
क्या जिंदगी क्या फायदा
जब तू ही खुश नहीं है।।

152
पत्थरों को अब कुछ महसूस नहीं होता
क्या गम, क्या दर्द, क्या खुशी।।

153
दर्द नहीं अब हमे कोई
बस अब लोगो से बात करने को दिल नहीं करता
अकेला रहना अच्छा लगता है हमे
किसी से मुलाकात करने का दिल नहीं करता।।

154
हम किसको बताएंगे अपने दिल का हाल
जब हमे कोई समझता ही नहीं है।।

155
इतनी मोहब्बत करने के बाद भी
वो मुझे छोड़कर चला गया
अब बताओ मै क्या कहूं उसको।।

156
मुझे तो नहीं आती अब उसकी याद
पता नहीं वो खुश है या नहीं।।

157
खुश बहुत था मै उसके होने से
आज उसके जाने से उतना ही दुखी हूं।।

158
आज मन फिर उदास है मेरा
शायद वो भी दुखी होगी आज।।

159
किसी से मेरी खुशी अब नहीं देखी नहीं जाती
तभी बार इन्सान मुझे दुख देकर चला जाता है।।

160
किस्मत को शायद यही मंजूर था
की हम दोनों अलग अलग रहे
ओर रोते रहे एक दूसरे की याद मै हमेशा।।

161
सोचा तो था तुम्हे भूल जाएंगे
पर दिल है हमारा मानता ही नहीं
की वो अब जा चुकी है।।

162
क्या फर्क पड़ता है अब
किसी के होने या ना होने से
मेरे अंदर अब किसी के लिए प्यार बाकी ना रहा।।

163
तुम भी सबकी तरह ही निकली
ओर चली गई मुझे अकेला
छोड़कर आओ झूठे वादों मै।।

164
तुमने जो दर्द दिया है
उसे तो मैने सह लिया
पर ये किसी ओर के साथ मत करना।।

165
हर बार मना लेता था मै उसे
उसने एक बार ही आज मेरा हालचाल नहीं पूछा।।

166
किसी को फिक्र नहीं है मेरी
कोई मुझे अब अपना नहीं लगता।।

167
आंखो मै आंसू आ जाते है मेरे
मै जब भी उसे किसी ओर के साथ देखता हूं।।

168
सब भूल जाती है वो
मेरी खबर ही नहीं रखती
मैने सुना है कि अब
मुझे प्यार भी नहीं करती।।

169
किसी को अपना दर्द बताया ना करो
लोग मजाक समझ लेते है मोहब्बत को भी।।

170
आज खुद पर ही बहुत गुस्सा आ रहा मुझे
मै तुमसे क्यों मिला था
उस बात पर रोना आ रहा मुझे।।

171
उसने हाल चाल तक नहीं पूछा
चलो अच्छा ही हुए
उसके ना पूछने से मै
मर तो नहीं गया।।

172
जिंदगी उस कगार पर है मेरी
जहां मुझे किसी से फर्क नहीं पड़ता
पर उस इन्सान की याद
आज भी बहुत आती है ।

173
उसके लिए भूखा भी रहा हूं मै
मैने हर काम उसके लिए किया था
फिर क्यों नारज हो गया खुदा मुझसे
मैने तो उसके लिए व्रत भी रखा था।।

174
अब मै अपने दर्द इस झूठी
मुस्कान के पीछे छुपा लेता हूं
क्युकी लोगो के सामने रोने से
कोई फायदा नहीं होता।।

175
एक बात हमेशा याद रखना
इस दुनिया मै कोई भी अपना नहीं है
यहां मोहब्बत भी साथ छोड़ देती है।।

176
हर वक्त वो अपनी ही बाते सुनाती है
मुझे सुनने का वक्त ही नहीं है उसके पास
हर बार अपने दर्द बता देती है
मेरे दर्द के परवाह ही नहीं है उसे।।

177
जिसे दर्द होता है उसे ही उसका एहसास होता है
लोगो के कहने से कुछ नहीं होता
जब इन्सान अन्दर से मर जाता है ना
तो उसे अपने जीने से कोई मतलब नहीं होता।।

178
अब जिंदगी से थोड़ा आराम चाहिए
मुझे अब थोड़ा सुकून चाहिए
कोई नहीं है मेरे पास पता है
पर अब मुझे अब कोई दूसरा नहीं चाहिए।।

180
ये अकेलापन अच्छा लगता है मुझे अब
क्युकी मै अपने साथ वक्त बिता पता हूं
लोगो से दूर होकर अब मै अपनी जिंदगी
सुकून से जी पाता हूं।।

181
जब भी मुझे उसकी याद आई है
मुझे आंखो मै आंसू देकर ही गई है
क्या था उसमे ऐसा
जो वो मुझे दर्द देकर गई है।।

182
जिंदगी मै अब कभी हम
दुबारा मोहब्बत नहीं करेंगे
मन भर गया अब हमारा
हम किसी से इश्क नहीं करेंगे।।

183
अगर मुझे पता होता
मुझे इतना दर्द मिलना वाला है
तो मै कब का तुमसे दूर चला गया होता।।

184
वो खुशी आज भी है
जो उस दिन थी तुम्हारे मिलने पर
बस फर्क इतना है
उस दिन तुम साथ थी
आज तुम साथ नहीं हो।।

185
कभी किसी मोड़ पर अगर मै मिल जाऊं तुम्हे
तो तुम पहचानने से इंकार कर देना।।

186
कहते है लोग अक्सर छोड़ जाते है हमे
किसी दूसरे के लिए
पर उसने तो कहा था
वो सिर्फ मुझसे मोहब्बत करती है।।

187
मेरे कहने पर पूछती है वो मेरा हाल
ऐसे तो उसे मेरी याद भी नहीं आती।।

188
दर्द, दुःख, परेशानी इनसे तो अब रिश्ता है मेरा
क्युकी ये साथ है तभी मै जी रहा हूं आज
उसके बिना अब ये ही सहारा है मेरा।।

189
मैने तो उसे सिर्फ खुशी दी है
ओर उसने मुझे दर्द के
सिव कभी कुछ नहीं दिया।।

190
कभी तो प्यार से बात कर लेती
शायद मेरे दिल को भी तसल्ली मिल जाती
की मेरा भी कोई है इस दुनिया मै।।

191
सुना है आजकल वो मुझ पर ही नजर रखते है
मेरे जाने के बाद भी वो
मेरी ही खबर रखते है।।

192
जब भी अकेले मै बैठकर सोचता हूं मै
तो हमेशा खुद को तन्हा पाता हूं मै
कोई नहीं है मेरा
बस यही सोचकर अकेला रह जाता हूं मै।।

193
वो नदी किनारे वाली शाम
ओर वो तुम्हारा मिलकर
मुझसे बिछड़ जाना
आज भी बहुत याद आता है।।

194
तुम्हे तो शायद याद नहीं होगा
पर हां मै तुमसे आज भी बहुत प्यार करता हूं।।

195
अब कभी भी नहीं मिलना चाहती मै तुमसे
क्युकी अब नफरत हो चुकी है मुझे तुमसे।।

196
तुम एक बात हमेशा याद रखना
मै तुम्हे कभी भूल नहीं सकता
ओर तुम्हे माफ भी नहीं कर सकता।।

197
मैने सोचा था तुम मेरी हो
पर मुझे क्या पता था
तुम अब किसी ओर की अमानत हो।।

198
अब ये तकलीफ़ ओर दर्द मेरे जीवन का हिस्सा है
क्युकी अब तुम मेरे पास नहीं हो।।

199
एक बार कह देती तुम प्यार नहीं करती
यू मेरी मोहब्बत का तमाशा बनाना जरुरी था क्या।।

200
अब तो जिंदगी की भी परवाह नही करता मै
क्युकी अब किसी से शिकायत नहीं करता मै
अकेला ही अच्छा हूं अब
किसी से मोहब्बत नहीं करता मै।।

Final Words:

So my dear friends these were the best sad status in hindi for whatsapp and facebook which you must share with your friends, girlfriend and boyfriend on social media sites.

We are going to add more content to this post and keep it updated so that you will be able to read latest and new sad status.

Friends if you liked our status then please give 1 like and share on whatsapp and facebook and your friends will definitely love it. Thanks and keep coming back for more.

Leave a Comment

Your email address will not be published.